दो हिस्सों में बंटा शताब्दी एक्सप्रेस, बाल-बाल बचे यात्री

shatabdi-express-broken-two-parts

नई दिल्ली। नई दिल्ली से चलकर लखनऊ को जाने वाली स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस दो हिस्सों में बंट गई। घटना खुर्जा जंक्शन से गाड़ी के निकलने के बाद हुई। हालांकि घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। रेलवे ने इस घटना के जांच के आदेश दिये हैं। जानकारी के अनुसार ट्रेन सिर्फ चार बोगियों के साथ ही आगे निकल गई। यात्रियों के शोर मचाने के बाद ड्राइवर ने गाड़ी रोकी। इस वजह से इस रूट पर आधे घंटे से ज्यादा समय तक ट्रेनों का परिचालन बाधित रहा।

Read Also: नीति आयोग से अरविंद पनगढ़िया ने दिया इस्तीफा, लौटेंगे शिक्षा क्षेत्र में वापस

यह भी पढ़ें -   जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइल का सफल परीक्षण

गाड़ी संख्या 12004 स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस सुबह नई दिल्ली स्टेशन से रवाना हुई थी। खुर्जा जंक्शन रेलवे स्टेशन से आगे चलती हुई ट्रेन के डिब्बे अचानक इंजन से अलग हो गए। इंजन से पीछे सिर्फ चार बोगी ही जुड़ी रह गईं, बाकी पीछे छूट गईं। जब तक यात्रियों की सूचना पर ड्राइवर ट्रेन को रोकता, इंजन चार बोगियों को लेकर दूर निकल चुका था। यह हादसा खुर्जा जंक्शन और कमालपुर रेलवे स्टेशन के बीच हुआ।

Read Also: व्हाट्सएप को टक्कर देने के लिए पेटीएम लाएगी मैसेजिंग सर्विस

हादसे में किसी तरह का कोई नुकसान की खबर नहीं है लेकिन एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया। जानकारी के मुताबिक खुर्जा जंक्शन पर क्रॉस चेंजिंग का काम चल रहा था। जिस वजह से ट्रेंन की कपलिंग टूट गई और ये हादसा हो गया। घटना की सूचना मिलते ही अलीगढ़ से तकनीकी टीम घटनास्थल पर पहुंची और बोगियों को जोड़कर ट्रेन को आगे रवाना किया। इस घटना से कई ट्रेनों को निकटवर्ती स्टेशनों पर ही रोकना पड़ा।

यह भी पढ़ें -   रामनाथ कोविंद होंगे देश के 14वें राष्ट्रपति, मिले 66 प्रतिशत वोट

Read Also: जल्द आने वाली है फेस्टिव सेल, डिस्काउंट के लिए रहें तैयार

खुर्जा जंक्शन के अधिकारी पीके गुप्ता के मुताबिक रेलवे ने मामले की जांच के आदेश दिये हैं और इसकी जांच लखनऊ की टीम करेगी।

 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्विटरगूगल प्लस पर फॉलो करें

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *