गाजियाबाद के मुरादनगर में श्मशान घाट की छत गिरी, 23 की मौत की पुष्टि

गाजियाबाद श्मशान

गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के मुरादनगर में एक श्मशान घाट की छत गिर गई। सूचना के अनुसार इस घटना में 23 लोगों की मरने की बात की जा रही है। जिला प्रशासन की तरफ से इस बात की पुष्टि की गई है। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

15 घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनमें से कई की हालत गंभीर है। हादसे की रिपोर्ट सीएम योगी ने मांगी है। बताया जा रहा है कि मृतक में ज्यादातर लोग मुरादनगर के रहने वाले हैं। घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। इस बीच यह बात भी सामने आ रही है कि छत चार महीने पहले बनी थी और उसमें इस्तेमाल हुए मेटेरियल की क्वालिटी खराब थी।

यह भी पढ़ें -   बिहार में अब डीएम तय करेंगे निजी अस्पतालों में कोरोना की फीस

खबरों के मुताबिक, गाजियाबाद के दयानंद कॉलोनी निवासी दयाराम की मौत बीमारी के चलते रात में हो गई थी। दयाराम के अंतिम संस्कार में 100 से ज्यादा लोग शामिल होने गए थे। पुजारी के कहने पर सभी लोग श्मशान घाट के परिसर में बने भवन में खड़े होकर आत्मा की शांति के लिए पाठ कर रहे थे।

जमीन धंसने हुई दुर्घटना

इसी दौरान छत के एक हिस्से की जमीन धंस गयी। जिसके कारण दीवार नीचे बैठ गई और छत का लिंटर गिर गया। घटना के वक्त कुछ लोगों ने भागकर अपनी जान बचाई। मौके पर एनडीआरएफ की टीम पहुंच गई है और मलबे में दबे लोगों को निकालने का काम कर रही है।

यह भी पढ़ें -   यूपी बुलंदशहर में दो साधुओं की निर्मम हत्या, दोनों साधु मंदिर में सो रहे थे
सीएम योगी ने लिया घटना का संज्ञान

घटना के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गाजियाबाद जिले में हुई इस घटना के बाद इसका संज्ञान लिया और कहा, ‘मैंने जिला अधिकारियों को राहत अभियान चलाने और घटना की रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। घटना से प्रभावित लोगों को हर संभव मदद प्रदान की जाएगी।’

घटना में घायल हुए लोगों को अस्पतालों में भर्ती कराया जा रहा है। मौके पर पुलिस की टीम पहुंच गई है। मुरादनगर में जिस जगह पर यह घटना हुई है, वहां सुबह 3 बजे से ही बारिश हो रही थी।

यह भी पढ़ें -   भाजपा को मिले 15 साल और मुझे केवल 15 महीने: कमलनाथ