कोरोना संकट के बीच सोमवार से दिल्ली में रैपिड टेस्टिंग

कोरोना संकट

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में कोरोना संकट के बीच कई इलाकों में रैपिड टेस्टिंग की जाएगी। राज्य सरकार कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों और संक्रमित होने की ज्यादा संभावनाओं वाले लोगों की पहचान करने के लिए ऐसा कदम उठा रही है। इससे दिल्ली में बढ़ रहे मामलों से निपटने में सहायता मिलेगी।

बता दें कि पिछले दिनों मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली में 20 अप्रैल के बाद भी लोगों लॉककडाउन से छूट नहीं मिलेगी। सीएम केजरीवाल ने दिल्ली में लगातार बढ़ रहे मामलों पर चिंता जताई थी। उन्होंने कहा था कि दिल्ली में अलग-अलग जोनों में बांट कर रैपिड टेस्टिंग कराई जाएगी।

बता दें कि दिल्ली में करीब 80 इलाकों को कोरोना के लिहाज से संवेदनशील घोषित किया गया है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली में सभी हॉटस्पॉट इलाकों में रैपिड टेस्टिंग की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस संबंध में केंद्र सरकार के निर्दशों का पालन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें -   बिहार में कोरोना के 144 नए केस मिले, कोरोना मरीजों की संख्या 2300 के पार

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि जिसके अंदर कोरोना वायरस के कोई लक्षण नहीं है लेकिन वो भी टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने ऐसी स्थिति को और अधिक खतरनाक बताया और कहा कि उन्हें पता ही नहीं है कि उसे कोरोना है और वे कोरोना को साथ लेकर घूम रहे थे।

बता दें कि दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। दिल्ली में अतबक 1778 एक्टिव केस हैं और 43 लोगों की मौत कोरोना से अबतक हो गई है। वहीं इस बिमारी को मात देकर अबतक 72 मरीज अपने घरों को लौट चुके हैं। भारत में कोरोना के 17000 से ज्यादा कंफर्म केस हैं और 543 लोगों की मौत हो चुकी है।

You May Like This!😊