पूजा घर में छिपकली का होना शुभ या अशुभ, जानें छिपकली से जुड़े तथ्य

पूजा घर में छिपकली होना शुभ या अशुभ

पूजा घर में छिपकली का होना एक शुभ संकेत माना जाता है। पूजा घर में छिपकली का होना घर की आर्थिक स्थिति सुधरने का संकेत होता है।  ऐसा माना जाता है कि यदि घर के मंदिर में या पूजा घर में छिपकली दिखे तो घर हमेशा धन धान्य से भरा रहता है। घर में रहने वाले लोगों के बीच अच्छा तालमेल रहता है। घर में हमेशा खुशियाँ बनी रहती है।

छिपकली का जमीन पर चलना क्या संकेत देता है?

शकुन शास्त्र के अनुसार, छिपकली का जमीन पर चलना और किसी विशेष समय पर दिखना भविष्य में होने वाली शुभ-अशुभ घटनाओं का संकेत करता है। जमीन पर बार-बार छिपकली का चलना प्राकृतिक घटनाओं जैसे भूकंप, तूफान इत्यादि की तरफ इशारा करता है। ऐसे में सचेत रहना चाहिए और अनहोनी के बचने के लिए उपाय करना चाहिए।

घर में ज्यादा छिपकली होने का क्या कारण है?

कई बार घर में ज्यादा छपकली हो जाती है। घर में ज्यादा छिपकली होने से ये आपस में लड़ाई करते दिख जाते हैं। यह अशुभ संकेत होता है। इससे परिवार के सदस्यों के बीच मतभेद होने का संकेत होता है। घर में ज्यादा छिपकली हो तो उसे भगा दें। जानें – छिपकली भगाने के तरीके

यह भी पढ़ें -   छिपकली भगाने के तरीके, जानें छिपकली को घर में आने से कैसे रोकें?
दीवार पर छिपकली देखने से क्या होता है?

घर की दीवार पर छिपकली दिखना आम बात है। दीवार पर यदि छिपकली ऊपर की ओर चढ़ता दिखाई दे तो यह शुभ संकेत होता है। यह दर्शाता है कि आप जीवन में उन्नति करने वाले हैं। लेकिन यदि छिपकली दीवार पर से नीचे आता दिखता है तो यह अशुभ संकेत होता है।

छिपकली गिरने के बाद क्या करना चाहिए?

छिपकली की त्वचा में जहर होता है। इसलिए यदि छिपकली चेहरे पर या शरीर के किसी भी हिस्से पर गिर जाए तो तुरंत ही उस हिस्से को अच्छी तरह से धो लेना चाहिए, ताकि जहर से नुकसान न हो।

छिपकली का जहर कितना खतरनाक होता है?

छिपकली का जहर उसकी त्वचा में होता है। यदि छिपकली घर में किसी खाने-पीने की चीज में गिर जाए तो उसमें जहर घुल जाता है। इसलिए उस खाने को फेंक देना चाहिए। ऐसा खाना खाने पर व्यक्ति को उल्टियां होने लगती हैं। कई बार स्थिति गंभीर भी हो सकती है।

यह भी पढ़ें -   घर में छिपकली दिखना शुभ या अशुभ, जानें छिपकली दिखने का मतलब
हाथ पर छिपकली चढ़ने से क्या होता है?

हाथ पर छिपकली चढ़ने के शुभ-अशुभ संकेत होते हैं। दाहिने हाथ पर छिपकली चढ़ने या गिरने से धन लाभ होने का संकेत होता है। जबकि बाएं हाथ पर छिपकली गिरने या चढ़ने का मतलब धनहानि हो सकता है।

छाती पर छिपकली गिरने से क्या होता है?

छिपकली वैसे तो कम ही गिरती है लेकिन यदि किसी व्यक्ति के दाएं छाती पर छिपकली गिर जाए तो यह शुभ संकेत है। ऐसा होने पर व्यक्ति को नई खुशियाँ मिलती है जबकि बाएं छाती पर छिपकली गिरने से घर में विवाद और क्लेश होता है।

स्त्री के बाएं हाथ पर छिपकली गिरने से क्या होता है?

छिपकली यदि स्त्री के बाएं अंग पर गिरती है तो यह शुभ माना जाता है। लेकिन यदि छिपकली स्त्री के दाएं अंग पर गिरती है तो यह अशुभ माना जाता है। वहीं पुरुष के बाएं अंग पर अशुभ और दाएं अंग पर छिपकली गिरना शुभ माना जाता है।

यह भी पढ़ें -   जन्माष्टमी क्यों और कैसे मनाई जाती है? जानें पूजा विधि
दूध में छिपकली गिर जाए तो क्या करना चाहिए?

वैसे तो छिपकली में जहर नहीं होता है लेकिन छिपकली की त्वचा में जहर पाया जाता है। दूध में छिपकली गिर जाए तो उसे इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि दूध में जहर घुल जाता है। इससे तबीयत खराब हो सकती है।

छिपकली की आवाज सुनने से क्या होता है?

वैसे तो छिपकली की आवाज को सुनना आसान नहीं होता है। लेकिन यदि छिपकली खाना खाते वक्त बोलता हुआ सुनाई दे तो शुभ समाचार या शुभ फल की प्राप्ति का संकेत होता है। दीवाली की रात यदि छिपकली बोलता हुआ दिखे तो यह अत्यंत ही शुभ संकेत होता है। इससे घर में धन-धान्य की आपार वर्षा होती है।