पीएम मोदी ने किया केएमपी एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन, अब मेट्रो बल्लभगढ़ तक जाएगी

pm-modi-inaugurates-kmp-expressway

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली और हरियाणा को जोड़ने वाली कुंडली-मानेसर-पलवल (केएमपी) एक्सप्रेस-वे को देश को सौंप दिया। इस एक्सप्रेस-वे का कार्य तीन पहीने पहले ही पूरा कर लिया गया है। इसके लिए एक निजी कंपनी को सुप्रीम कोर्ट के दखल के बाद कार्य का जिम्मा सौंपा गया था। इस कार्य के लिए दोबारा टेंडर निकाला गया था।

तो ये है निरहुआ की असली पत्नी, जानें कौन । Who is real wife of Nirahua

पीएम मोदी ने एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन के साथ-साथ दिल्ली मेट्रो की एस्कॉट्स मुजेसर से बल्लभगढ़ एक्सटेंशन को भी हरी झंडी दिखाई। इस मौके पर उन्होंने कहा कि दिल्ली और एनसीआर के क्षेत्रों में इस एक्सप्रेस-वे के बनने से विकास के नए द्वार खुलेंगे।

यह भी पढ़ें -   दिल्ली और नोएडा में दौरेगी टायर वाली मेट्रो ट्रेन

पीएम मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत लोगों को इन दोनों परियोजनाओं के शुरू होने के लिए बधाई दी और कहा कि ये दोनों योजनाएं दो तस्वीरों को याद करने का अवसर है- ये तस्वीर बीजेपी सरकारों के कार्यसंस्कृति की है, हमारे कार्य करने के तरीकों की है।

गूगल पर यह सवाल पूछना मना है… होती है ऐसी खतरनाक सजा

पीएम मोदी ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी सरकार में 1 लाख से अधिक पंचायतों को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ा गया है। जबकि पिछली सरकार में मात्र 59 पंचायतें ही जुड़ पाई थी। उन्होंने कहा कि जो कार्य पहले एक दिन में 12 किलोमीटर हाईवे बनता था वह अब 27 किलोमीटर प्रतिदिन का हो गया है।

यह भी पढ़ें -   सैम मानेकशॉ ने जब इंदिरा गांधी को कहा था, 'मैं तैयार हूं स्वीटी'

जानिए… क्या है खासियत दिल्ली के कनॉट प्लेस में

इस एक्सप्रेस-वे का कार्य तीन महीने पहले ही पूरा कर लिया गया है। केएमपी एक्सप्रेसवे की संकल्पना वर्ष 2003-04 में पूर्वी पेरिफेरल एक्सप्रेसवे के साथ की गई थी। 2016 में इसका कार्य आरंभ किया गया  और फरवरी 2019 कार्य पूरा करने का समय था। बता दें कि एक्सप्रेस-वे का कार्य भूमि अधिग्रहण और ठेकेदार के काम छोड़ने की वजह से लटका पड़ा था। लेकिन सुप्रीम कोर्ट के दखल के बाद इस कार्य को फिर से शुरू किया गया।

यह भी पढ़ें -   दिल्ली पुलिस ओला, उबर और ड्राइवरों की सुरक्षा को सुनिश्चित करे: हाईकोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *