NRI Full Form in Hindi – एनआरआई का फुल फॉर्म क्या होता है?

NRI Full Form in Hindi

NRI Full Form in Hindi – एनआरआई का फुल फॉर्म क्या होता है? जब कोई व्यक्ति किसी कारणवश अपने देश से दूसरे देश में अपना निवास स्थान बना ले तो उसे एनआरआई (NRI) कहा जाता है। भारत के कई निवासी ऐसे हैं जो किसी रोजगार की तलाश में बाहर गए और अब दूसरे देश की नागरिकता ले ली है। आइए एनआरआई के फुल फॉर्म उनके बारे में हिन्दी में (Full Form of NRI in Hindi) विस्तार से जानकारी प्राप्त करते हैं।

Full Form of NRI in Hindi – एनआरआई का फुल फॉर्म हिंदी में

एनआरआई का फुल फॉर्म (NRI Full Form) Non Resident Indian (नॉन रेसिडेंट ऑफ इंडिया) होता है। अगर हम इसे हिंदी  (Hindi) में समझे तो एनआरआई उस व्यक्ति को कहा जाता है जो भारत में जन्म लेने के बाद किसी कार्यवश विदेशों में बस गए हैं और वहां की नागरिकता ले ली है। भारत से कई लोग हर साल दूसरे देश व्यापार, रोजगार या शिक्षा के लिए जाते हैं। जब वह वहां अच्छी पोजिशन पर पहुंच जाते हैं तो वहीं पर शेटल हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें -   जानिए भारत छोड़ो आंदोलन की कहानी, जब पूरी अंग्रेजी हुकूमत हिल गई थी

भारत में जन्में बहुत से ऐसे लोग हैं जो विदेश में रहते हैं और भारतीय संस्कृति को विदेशों में बढ़ाने में सहयोग करते हैं। भारत का एक बहुत ही बड़ा समूह विदेशों में अलग-अलग देशों में रहता है। अमेरिका और कनाडा जैसे देशों में बहुत ही ज्यादा भारतीय रहते हैं।

एनआरआई (नॉन रेसिडेंट ऑफ इंडिया) बनने के कारण – Why People Become NRI?

भारतीय लोग बाहर के देशों में जाकर एनआरआई बन जाते हैं। वे वहां की नागरिकता ले लेते हैं। इसके कई कारण होते हैं।

  • रोगजार प्राप्त करने के लिए
  • यात्रा और अवकाश के लिए
  • भारत से बाहर उच्च शिक्षा की प्राप्ति के लिए
  • रोजगार प्रशिक्षण या फिर कोई अन्य प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए
  • मेडिकल और ईलाज के कारण
  • किसी व्यक्ति का कोई व्यावसायिक उद्येश्य
यह भी पढ़ें -   LLM Full Form, Meaning, Eligibility and Courses in Hindi
नॉन रेसिडेंट ऑफ इंडिया (NRI) शब्द का प्रयोग कब किया जाता है?

एनआरआई शब्द का प्रयोग ऐसे व्यक्तियों के लिए किया जाता है जो भारत से बाहर 6 महीने या उससे अधिक समय से विदेशों में रह रहे होते हैं। यह भारत के नागरिक तो होते हैं लेकिन किसी कारणवश विदेश में रहने चले जाते हैं या रहने लगते हैं।

इसके साथ-साथ एनआरआई शब्द का प्रयोग वैसे व्यक्ति के लिए भी किया जाता है जिनके माता-पिता तो भारतीय हैं लेकिन उनका जन्म भारत के बाहर दूसरे देश में हुआ हो। ऐसे में उन्हें उस देश की नागरिकता मिल जाती है जहां पर उन्होंने जन्म लिया है।

यह भी पढ़ें -   विश्व धरोहर दर्जा प्राप्त यह मंदिर Buddhist Civilization का केंद्र है...
भारत के कुछ प्रसिद्ध एनआरआई – Famous Non Resident Indian

भारतीय मूल के कुछ प्रसिद्ध एनआरआई (नॉन रेसिडेंट ऑफ इंडिया) इस प्रकार हैं –

  • लिली सिंह (Lilly Singh)
  • कल्पना चावला (Kalpana Chawla)
  • हाशिम आमला (Hashim Amla)
  • सुंदरमूर्ती (Sundramoorthy)
  • आनंद सत्यानंद (Anand Satyanand)
  • वाहिद अली (Waheed Alli)
  • मनोज पंजाबी (Manoj Punjabi)
  • श्री प्रकाश लोहिया (Sri Prakash Lohia)