डेढ़ घंटे पहले पैदा हुई बेटी को मां ने उतारा मौत के घाट, कहा- बस अब और नहीं…

दिल्ली के मोती नगर इलाके की रहने वाली एक महिला ने अपने नवजात बेटी को मौत के घाट उतार दिया। दरअसल, महिला चाहती थी की उसे बेटा हो लेकिन बेटी हो गई। बेटी पैदा होने के डेढ़ घंटे बाद ही महिला ने अस्पताल में ही बच्ची का नाक और मुंह दबाकर उसकी हत्या कर दी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा होने पर पुलिस ने महिला के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार, आरोपी महिला रीटा देवी को प्रसव के लिए 28 जुलाई को बसईदारापुर स्थित ईएसआई अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 29 जुलाई की देर रात महिला ने बेटी को जन्म दिया। जन्म के करीब डेढ़ घंटे बाद जब महिला नर्सिंग स्टाफ के पास पहुंची और बताया कि बच्ची में कोई हलचल नहीं हो रही है। नर्सिंग स्टाफ ने बच्ची की नाक लाल देखी। उसने तुरंत बच्ची को गहन चिकित्सा वार्ड में ले जाकर उसकी सांस लाने की कोशिश की, लेकिन कामयाबी नहीं मिली। बच्ची की नाक रंग लाल देखकर डॉक्टरों को शक हुआ और उन्होंने पुलिस को घटना की जानकारी दे दी। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया। पोस्टमार्टम में पता चला कि बच्ची की मौत दम घुटने से हुई है। इसके बाद पुलिस ने जब बच्ची की मां से पूछताछ की, तो महिला ने अपना गुनाह कबूल कर लिया। महिला ने बताया कि उसकी पहले से दो बेटियां और एक बेटा है। वह अब और बेटी नहीं चाहती थी, इसलिए उसने नवजात बेटी की नाक और मुंह दबाकर हत्या कर दी। पुलिस महिला को गिरफ्तार कर जांच में जुटी है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें