खुशखबरी! अब पासपोर्ट बनाने ज्यादा दूर नहीं जाना पड़ेगा

नई दिल्ली। केद्र सरकार ने लोगों की परेशानियों को देखते हुए देशभर में कुल 149 नए डाकघर पासपोर्ट सेवा केंद्र खोलने का रास्ता साफ कर दिया है। जिन राज्यों में नए केंद्र खोले जाएंगे वो है उत्तर प्रदेश, दिल्ली, उत्तराखंड, झारखंड, बिहार, राजस्थान, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और असम। सबसे ज्यादा यूपी में पासपोर्ट केंद्र खोले जाएंगे।

Read Also: ओम पुरी के जीवन से जुड़ी कुछ खास बातें

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पीओपीएसके के गठन की घोषणा करते हुए कहा कि पासपोर्ट बनाने की सबसे बड़ी बाधा दूरी को केंद्र सरकार ने समाप्त कर दिया है। इसके साथ ही नए केंद्र और पुराने केंद्र दोनों को मिलाकर देशभर में पासपोर्ट केंद्र की संख्या 328 हो जाएंगे। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि हर 50 किलोमीटर पर पासपोर्ट केंद्र का गठन किया जाएगा। इसके लिए डाक विभाग को सूची मंगाकर मैपिंग के लिए कहा गया है।

यह भी पढ़ें -   ये क्या कह दिया बिहार में औरंगाबाद के डीएम ने महिलाओं के बारे में

Read Also: मुंबई बम बलास्ट के आरोपी अबू सलेम समेत छह दोषी करार

देश के उत्तरी राज्य उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा 19 जिलों में नए खोलने का प्रस्ताव है। जिन जिलों में नए केंद्र खुलेंगे वो है अलीगढ़, अमेठी, आजमगढ़, बहराइच, बलिया, बलरामपुर, बाराबंकी, बस्ती, गोंडा, जौनपुर, कुशीनगर, मऊ, सीतापुर, मुरादाबाद, रामपुर, प्रतापगढ़, सहारनपुर और राजबरेली में नए पासपोर्ट सेवा केंद्र खोलने का प्रस्ताव है।

Read Also: क्रिकेट के इतिहास में हुआ गजब कारनामा, मात्र 4 गेंदों में बने 92 रन

यह भी पढ़ें -   एक-दूसरे को बचाने में डूबी पांच लड़कियां, मृतकों में चार एक ही परिवार के

इसके अलावा झारखंड और उत्तराखंड में तीन, बिहार, मध्यप्रदेश औऱ असम में नौ, तमिलनाडु, महाराष्ट्र और राजस्थान के 11-11 जिलों में नए केंद्र खोले जाएंगे।