कोरोनावायरस हुआ और खतरनाक, अब हवा के जरिए फैल रहा है संक्रमण

कोरोनावायरस

शंघाई।  चीन में फैले कोरोनावायरस से चीन में अब तक 811 लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोनावायरस चीन में और से फैल रहा है। कोरोना को लेकर अब एक नया खुलासा हुआ है। ऐसा अंदेशा है कि इस खुलासे के बाद कोरोनावायरस के फैलने का कारण दुनियाभर के सरकारों और स्वास्थ्य क्षेत्र से जुड़े लोगों की नींद उड़ा सकता है।

शंघाई के अधिकारियों ने बताया है कि कोरोनावायरस अब हवा में मौजूद नमी में मिलकर संचरण करने लगा है और वह हवा में तैरते हुए दूसरे व्यक्ति को संक्रमित कर रहा है जिसे एयरोसोल ट्रांसमिशन कहा जा रहा है। अब तक वायरस से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के कारण बीमारी होने की ही बात कही जा रही थी। हां, संक्रमित व्यक्ति के खांसने, छींकने से पास के व्यक्ति में संक्रमण पहुंचने की भी पुष्टि पहले ही हो चुकी है।

अभी तक मौजूद रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोनावायरस किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने पर ही यह बीमारी दूसरे लोगों में फैल रही है लेकिन इस खुलासे ने लोगों की नींद उड़ा दी है। संक्रमित व्यक्ति के खांसने, छींकने से पास के व्यक्ति में संक्रमण पहुंचने की भी पुष्टि पहले ही हो चुकी है।

यह भी पढ़ें -   कोरोना वायरस: कोरोना से मरने वालों की संख्या 3000 के पार, लूव्र संग्रहालय बंद

हाल ही में शंघाई सिविल अफेयर्स ब्यूरो के डेप्युटी हेड ने बताया कि एयरोसोल ट्रांसमिशन का मतलब है कि वायरस हवा में मौजूद सूक्ष्म बूंदों से मिलकर एयरोसोल बना रहा है। स्वास्थ्य अधिकारियों का मानना है कि इससे सांस लेने के कारण संक्रमण हो रहा है। लोगों को साफ कह दिया गया है कि इस वायरस से बचने के लिए वह जरूरी उपाय अपनाएं और लोगों में जागरुकता बढ़ाएं।

अब तक यह बात कही जा रही था कि संक्रमित व्यक्ति के खाँसने और छींकने से पास के व्यक्ति को सांस लेते समय यह वायरस उसमें प्रवेश कर जाता था लेकिन अब सामने आ रहा है कि इस वायरस की सूक्ष्म बूंदे हवा में तैरने लगी हैं। अगर कोई व्यक्ति ऐसी किसी चीज को छूकर अपने नाक, आंख और मुंह पर लगाता है जिस पर यह वायरस लगा हो तो भी व्यक्ति इस वायरस की चपेट में आ सकता है।

कोरोनावायरस को लेकर हुए इस नए खुलासे के बाद चीन में अलर्ट जारी कर दिया गया है। चीन ने अपने नागरिकों से साफ कह दिया है कि वह एक जगह पर इकट्ठा न हों। हवा से बचने के लिए घरों की खिड़कियाँ और दरवाजे को बंद रखें। घर में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। दरवाजों के हैंडल, खाने की टेबर इत्यादि को साफ रखें।

यह भी पढ़ें -   पोम्पियो ने आईएईए के महानिदेशक से ईरान पर हुई चर्चा

चीन में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 811 हुई

चीन में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 811 हो गयी है, जबकि 37,198 लोगों में इस संक्रमण के पाये जाने की पुष्टि हुई है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने यह जानकारी दी। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार कोरोना वायरस के 37,198 मामलों की पुष्टि की जा चुकी है जिसमें से 6,188 लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है।

इस वायरस से 811 लोगों की मौत हो चुकी है तथा 2,649 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी है। इससे पहले हुवोई स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि प्रांत में कोरोनोवायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 780 हो गयी है, जबकि प्रांत में 1,400 मामले दर्ज हुये है।

दिसंबर 2019 में चीन के वुहान शहर में कोरोनावायरस प्रकोप शुरू हुआ था। पिछले 24 घंटों में कम से कम 1,370 कोरोनावायरस के मामले सामने आये है। पिछले 24 घंटों में हुबेई प्रांत में कुल 2,147 नए मामले दर्ज किए गए हैं। चीन के अलावा अमेरिका सहित कई देशों में कोरोना वायरस के मामले दर्ज किये गए हैं।

यह भी पढ़ें -   इस्राइल में पीएम मोदी का भव्य स्वागत, मोदी बोले- 'आई' फॉर 'आई'

दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस का 25वां मरीज मिला

दक्षिण कोरिया में जानलेवा कोरोनावायरस के 25वें मामले की पुष्टि हो गई है। देश के स्वास्थ्य मंत्रालय के अंतर्गत संचालित कोरिया रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र (केसीडीसी) ने रविवार को यह जानकारी दी। केसीडीसी ने एक बयान में कहा, कोरोना वायरस के 25वें मामले की पुष्टि हो गई है।

कोरियाई 73 वर्षीय महिला अपने परिवार-बेटे और बहू के साथ नवंबर 2019 में चीन के गुआंग्डोंग प्रांत गई थीं और 31 जनवरी, 2020 तक वहां रूकी थीं। इसके बाद उन्हें बुखाार, खांसी, गले में खराश की शिकायत हुई और जांच के बाद उन्हें कोरोनावायरस से संक्रमित पाया गया। उन्हें अस्पताल के अलग वार्ड में भर्ती किया गया है।

बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोनावायरस के मद्देनजर गत सप्ताह वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल की घोषणा की थी।

You May Like This!😊