कोरोना कामयाबी: देशभर में 24 घंटे में एक हजार से ज्यादा मरीज हुए ठीक

कोरोना कामयाबी

नई दिल्ली। कोरोना कामयाबी- आज से देशभर में लॉकडाउन का तीसरा चरण प्रारंभ हो चुका है। लॉकडाउन का तीसरा चरण 17 मई यानी आज से दो  हफ्ते के लिए बढ़ गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से लॉकडाउन बढ़ाने के साथ नई गाइडलाइंस जारी कर दी गई है और इस गाइडलाइन के कारण ही सरकार की तरफ से कहा गया कि कुछ गतिविधियों पर देशव्यापी रोक रहेगी।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

इस गाइडलाइन को जारी करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि पिछले 24 घंटे में एक हजार से ज्यादा संक्रमित मरीज ठीक हुए हैं और यह रिपोर्ट अबतक में अपने आप में रिकॉर्ड है। पिछले 24 घंटे में 1,074 लोग कोरोना से ठीक होने के साथ ही कुल मिलाकर देश में कोरोना से 11,706 लोग ठीक हो चुके हैं।

यह भी पढ़ें -   इन पांच विधायकों के शपथ से 29 दिन बाद हुआ शिवराज सरकार के कैबिनेट का विस्तार

क्यों सामाजिक दूरी का पालन करना है जरूरी?

सरकार की तरफ जो ढ़ील दी जा रही है उसके देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि इस क्रम में जरूरी है कि कड़े रोकथाम उपायों, प्रभावी मेडिकल ​​प्रबंधन, संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण के प्रयास जारी रखने की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि कोरोना जैसी महामारियों में ऐतिहासिक रूप से याद रखा जाना चाहिए कि यदि दी जा रही ढील में सामाजिक दूरी का पालन नहीं किया जाता है, तो प्रतिबंधों में ढील होते ही रोग के फैलने की संभावना तेजी से बढ़ जाती है। ऐसी स्थिति को रोकने के लिए और लॉकडाउन को प्रभावी बनाए रखने के लिए, हमें अपनी सामाजिक जिम्मेदारी को समझना चाहिए। ऐसा करके ही हम इस जंग को जीत सकते हैं।

यह भी पढ़ें -   श्रीकृष्णा - कलयुग में फिर लीलाएं रचने जा रहें हैं श्रीकृष्ण, जानें कब और कहाँ?

कोरोना कामयाबी- बता दें कि देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 42000 से अधिक हो गई है। देशभर में कोरोना संक्रमण की वजह से अबतक 1300 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। भारत के लिए सकारात्मक बात यह है कि देश में अबतक 11500 से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।