कश्मीर की स्थिति को 25 देशों के राजनयिकों ने बताया बेहतर, डोभाल से की मुलाकात

कश्मीर की स्थिति

नई दिल्ली। 25 देशों के विदेशी राजनयिकों के एक प्रतिनिधिमंडल ने कश्मीर का दौरा किया। विदेशी राजनयिकों के दल ने कश्मीर की वर्तमान स्थिति को बेहतर बताया। राजनयिकों के प्रतिनिधिमंडल ने शुक्रवार को भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सहालकार (एनएसए) अजीत डोभाल से भी मुलाकात की। राजदूतों का यह प्रतिनिधिमंडल जम्मू और कश्मीर के दो दिवसीय दौरे से लौटा था।

सूत्रों के अनुसार जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के छह महीने बाद राजनयिकों के इस दल ने नवगठित केंद्र शासित प्रदेश का दौरा किया। वहां की जमीनी स्थिति को देखकर टीम ने सरकार की सुरक्षा व्यवस्था के प्रति संतोष जाहिर किया है।

बता दें कि राजनयिकों के इस दल में जर्मनी, फ्रांस और अफगानिस्तान समेत 25 देशों के राजदूत शामिल थे। उन्होंने जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद अब हालत सामान्य होने और भारत सरकार की सुरक्षा व्यवस्था के प्रति खुशी जाहिर की।

यह भी पढ़ें -   प्रवासी मजदूर: महाराष्ट्र में सो रहे मजदूर की मालगाड़ी से कटकर मौत

राजनयिकों के इस दल ने राज्य का दौरा कर वर्तमान स्थिति को देखा और कहा कि अब यहां जिंदगी पटरी पर उतर रही है। भारत सरकार की ओर से की गई सुरक्षा व्यवस्था काफी बेहतर हैं।

अजित डोभाल से मिलने के बाद जर्मनी के राजदूत वॉल्टर जे. लिंडर ने कहा कि हमने जम्मू और कश्मीर का दौरा कर अपने अनुभवों को साझा किया। डोभाल के साथ अहम बैठक हुई। इसके अलावा अफगानिस्तान के राजदूत ताहिर कादरी ने जम्मू और कश्मीर दौरे के अनुभव को अच्छा बताया।