नीतीश का छलका दर्द, बोले- जीएसटी मेगा इवेंट का नहीं मिला न्योता

Nitish Kumar
  • नीतीश कुमार ने पहली बार कांग्रेस पर खुलकर हमला बोला और कहा कि इसके लिए कांग्रेस खुद जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए जदयू को कांग्रेस ने भरोसे में नहीं लिया। आज जो विपक्ष की स्थिति है इसके लिए कांग्रेस खुद जिम्मेदार है।

नई दिल्ली। नीतीश कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपने दर्द को रोक नहीं पाए और जीएसटी में शामिल नहीं होने के सवाल पर कहा कि उन्हें इसमें शामिल होने के लिए न्योता ही नहीं मिला था। उन्होंने कहा कि पार्टी के दस अन्य सांसदों को न्योता मिला था, वो गए थे। हालांकि उन्होंने फिर से समर्थन की बात दोहराई और कहा कि इससे जीएसटी के समर्थन में कोई कमी नहीं आने वाली है। जीएसटी को समर्थन जारी रहेगा।

यह भी पढ़ें -   बिहार में कोरोना से 9 लोगों की मौत, कुल आंकड़ा पहुंचा 610

Read Also: महागठबंधन में दरार: भाजपा विरोधी लालू की रैली से जदयू ने किया किनारा

इससे साथ ही नीतीश कुमार ने पहली बार कांग्रेस पर खुलकर हमला बोला और कहा कि इसके लिए कांग्रेस खुद जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए जदयू को कांग्रेस ने भरोसे में नहीं लिया। आज जो विपक्ष की स्थिति है इसके लिए कांग्रेस खुद जिम्मेदार है। उन्होंने आगे कहा कि ‘क्या विपक्ष की एकता के बिना कांग्रेस संघ मुक्त भारत बना सकती है?’

Read Also: गुजरात में 12 शेरों के बीच महिला ने दिया बच्चे को जन्म

यह भी पढ़ें -   Journalist Ajay Jha पत्नी, बच्चों सहित हुए कोरोना पॉजिटिव, लगाई मदद की गुहार

नीतीश के बयान के बाद जदयू के ही केसी त्यागी ने कहा कि हम कांग्रेस से नाराज नहीं हैं लेकिन नीतीश कुमार की बेइज्जती बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि नीतीश कुमार के बारे में जिन लोगों ने कहा कि वे हर रोज अपनी विचारधारा बदलते रहते हैं। इससे बड़ा अपमान हमने राजनीतिक जीवन में नहीं देखा।

Read Also: वीवो ने पेश किया अपना वी5एस स्मार्टफोन, जाने इसके फीचर और कीमत के बारे में

केसी त्यागी ने कहा कि हमारा एक लंबा इतिहास गैर-कांग्रेसवाद का रहा है। हम पर एनडीए छोड़ने का कोई दवाब नहीं था। हम स्वेच्छा से अलग हुए हैं। इसलिए यदि कोई हमारी विचाराधारा और सेक्युलर छवि पर सवाल खड़े करेगा तो उसे जवाब जरूर दिया जाएगा।