विवाद के बीच चीन की धमकी, जमीन की हिफाजत के लिए जंग भी मंजूर

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच जारी सिक्किम में डोकलम सीमा विवाद के बीच चीन में फिर भारत को धमकी देते हुए कहा है कि अगर अपनी जमीन जमीन की हिफाजत के लिए जंग भी करना पड़े तो चीन उसके लिए तैयार है। सिक्किम और भूटान में भारत और चीन के बीच सीमा विवाद के बीच चीन की सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स की तरफ से एक लेख में यह कहा गया है।

Read Also: नीतीश का छलका दर्द, बोले- जीएसटी मेगा इवेंट का नहीं मिला न्योता

भारत के रक्षामंंत्री अरुण जेटली के उस बयान का भी चीन ने जवाब दिया है जिसमें कहा गया था कि भारत 1962 जैसा नहीं है। चीन ने कहा है कि हम भी 1962 से अलग हैं। अगर वर्तमान हालात को नहीं संभाला गया तो जंग के हालात बन सकते हैं। चीन के इस सरकारी मीडिया ने शंघाई म्युनसिपल सेंटर ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज के प्रोफसर वेंग देहउ को कोट करते हुए यह बातें कही है।

यह भी पढ़ें -   'डायमंड प्रिंसेज' शिप पर फंसे यात्री जा सकेंगे अपने घर, मिली इजाजत

Read Also: जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइल का सफल परीक्षण

बता दें कि रक्षामंत्री अरुण जेटली ने इंडिया टुडे जीएसटी कॉन्क्लेव में कहा था कि चीन को समझना चाहिए कि यह 1962 वाला भारत नहीं है। जेटली ये बातें चीन द्वारा 1962 की याद दिलाने पर कही गई थी। हालांकि ग्लोबल टाइम्स में छपे लेख में इस बात पर भी जोर दिया गया है कि बातचीत से दोनों देश मुद्दे का हल निकालें। लेख में कहा गया है कि दोनों देशों के विवाद से किसी तीसरे को फायदा उठाने का मौका मिलेगा।

यह भी पढ़ें -   चीन ने फिर दी धमकी, डोकलाम से हटे भारत नहीं तो हम कश्मीर में घुस जाएंगे

Read Also: खुशखबरी! अब पासपोर्ट बनाने ज्यादा दूर नहीं जाना पड़ेगा

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्विटरगूगल प्लस पर फॉलो करें

यहां प्रदर्शित चित्रों को अलग-अलग जगहों से लिया जाता है। इसपर हम दावा नहीं करते। इनपर इनके मालिकों का अपना कॉपीराइट है।