लखनऊ में दो और लोग कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

कोरोना पॉजिटिव

लखनऊ। लखनऊ सदर के दुकानदार से पांडेयगंज के सेल्समैन को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। सेल्समैन में कोरोना पॉजिटिव संक्रमण की पुष्टि से पांडेयगंज गल्ला मंडी में हड़कम्प मच गया। सेल्समैन को पीजीआई में भर्ती कराया गया। वहीं पांडेयगंज के पांच अन्य लोगों की जांच कराई गई। इन सभी की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।

लखनऊ में पहली बार आरोग्य एप की सूचना पर तीन कोरोना संदिग्ध लोगों के नमूने जांच के लिए गए। इसके अलावा बलरामपुर में भर्ती लावारिस में कोरोना पॉजिटिव आया है। देर शाम रिपोर्ट आने से हलचल मच गई। मरीज को पीजीआई भेज दिया गया है।

मोतीझील पहुंचा कोरोना वायरस

यह भी पढ़ें -   कोविड-19 से न्यूयॉर्क में नहीं थम रहा मौतों का सिलसिला, 10 हजार से अधिक की मौत

बता दें मंगलवार को लखनऊ के एक नए इलाके में कोरोना वायरस ने दस्तक दी है। मोतीझील निवासी एक युवक में कोरोना वायरस मिला है। युवक पांडेयगंज स्थित गल्लामंडी की एक दुकान में काम करता है। युवक सदर में जनरल स्टोर संचालित करने वाले के संपर्क में आया। सदर के व्यापारी व उसके परिवारीजनों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि के बाद इस युवक को भी क्वारंटीन किया गया। साथ ही पांडेयगंज गल्लामंडी के दुकान के पांच लोगों की जांच कराई गई थी।  युवक में संक्रमण की पुष्टि हुई। बाकी लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

यह भी पढ़ें -   दरिंदगी: गुमला में शादी समारोह में दो युवतियों के साथ दरिंदों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल के मुताबिक मौसमगंज, मछली मोहाल, डालीगंज, पुरानी बांसमंडी, माया नगर, सराय हसनगंज आदि क्षेत्रों में संक्रमण से मुक्ति के लिए 66 टीमों ने अभियान चलाया। टीम ने घर-घर जाकर लोगों को जागरूक किया। टीम ने कुल 5617 घर का भ्रमण किया गया। 27541 जनसंख्या को जागरूक किया।

आरोग्य सेतु एप से नमूने लिये गए

सर्विलांस एवं कांटेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर 258 लोगों के नमूने जांच के लिए एकत्र किए गए। सीएमओ ने बताया कि आरोग्य सेतु एप से भी संदिग्ध लोगों की पहचान में मदद मिल रही है। यूपी में कोरोना संक्रिमत मरीजों की संख्या 1450 पहुंच चुकी है। कोरोना से उत्तर प्रदेश में 21 लोगों की मौत हुई है।