टोक्यो ओलंपिक को कोरोना के चलते किया गया स्थगित, 2021 में होंगे खेल

टोक्यो ओलंपिक

टोक्यो। कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों के बीच टोक्यो ओलंपिक-2020 को एक साल तक के लिए टाल दिया गया है। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने मंगलवार को अंतर्राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति (आईओसी) के साथ खेलों के महाकुंभ को 2021 तक टालने को तैयार हो गए हैं। आईओसी के अध्यक्ष थॉमस बाक से बातचीत करने के बाद आबे ने कहा, मैंने एक साल के लिए खेलों को स्थगित करने का प्रस्ताव रखा था और अध्यक्ष बाक ने इसके लिए अपनी सहमति दे दी है।

बता दें कि दूसरे विश्व युद्ध के बाद ऐसा पहली बार हुआ है कि ओलम्पिक खेलों को स्थगित किया गया हो। आबे ने बाक के साथ मंगलवार को फोन पर बात की और दोनों स्थगित करने के समझौते पर तैयार हो गए। आईओसी पर काफी दिनों से कोरोनावायरस के कारण खेलों को स्थगित करने का दबाव था। कनाडा ने साफ तौर पर कह दिया था कि अगर ओलम्पिक को एक साल तक के लिए आगे नहीं बढ़ाया जाता है तो वह इस बार खेलों में हिस्सा नहीं लेगा।

यही बात आस्ट्रेलिया ने भी कही थी और अमेरिका तथा ग्रेट ब्रिटेन ने भी खेलों को टालने की बात कही थी। आईओसी ने हाल ही में कहा था कि टोक्यो खेलों पर फैसला आने वाले चार सप्ताह में लिया जाएगा। आबे ने बाक से टेलीफोन पर बात की। अमेरिकी ओलम्पिक समिति ने मांग की थी कि टोक्यो ओलम्पिक को स्थगित किया जाए। अमेरिकी ओलम्पिक समिति और पैरालम्पिक समिति ने 2000 अमेरिकी एथलीटों का सर्वेक्षण करने के बाद यह मांग की थी।

यह भी पढ़ें -   भारत में कोरोना: सरकार अलर्ट, अभी तक 3000 से ज्यादा लोगों की मौत

अमेरिकी ओलम्पिक समिति और पैरालम्पिक समिति ने 4000 से अधिक एथलीटों को सर्वेक्षण भेजा था कि कोरोना के प्रकोप को देखते हुए टोक्यो ओलम्पिक को लेकर उनका क्या विचार है। इस पर उन्हें 1780 एथलीटों से जवाब मिला। ओलम्पिक समिति और पैरालम्पिक समिति ने एक बयान जारी कर कहा, हमें काफी एथलीटों के जवाब मिले और हमें पता चला कि हमारे एथलीट किस तरह की चुनौतियों का सामना कर रहे हैं। फिलहाल ऐसा कोई समाधान नहीं है जो इन इस सब चुनौतियों का कोई हल नहीं निकल सके।

यह भी पढ़ें -   केंद्रीय कैबिनेट का फैसला, सांसदों की सैलरी में 30 फीसदी की कटौती होगी

यह निष्कर्ष भी है कि गर्मियां बढ़ने के बाद ये परेशानियां समाप्त हो जाएंगी लेकिन ट्रेनिंग को लेकर माहौल, डोपिंग नियंत्रण और चलिफिकेशन प्रक्रिया को लेकर काफी परेशानियां चल रही हैं। जिससे ओलम्पिक की तैयारी सही ढंग से नहीं हो सकती। दोनों समितियों ने कहा, हमारा यही निष्कर्ष है कि फिलहाल इन खेलों को स्थगित कराना ही सही फैसला होगा। हम आईओसी से यही कहना चाहेंगे कि खेलों को बिलकुल सुरक्षित वातावरण में कराने के लिए सभी हरसंभव कदम उठाये जाएं।

यह भी पढ़ें -   अमेरिका ने ईरान पर 4 न्यूक्लियर प्रतिबंधों को 60 दिनों के लिए बढ़ाया

रॉयल स्पेनिश एथलेटिक्स संघ (आरईएफए) ने भी टोक्यो ओलंपिक को स्थगित करने की मांग की थी।आरईएफए ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर बयान जारी कहा था, हम पूरी तरह से ओलंपिक खेलो के आयोजन के पक्ष में है लेकिन हम समझते हैं कि वर्तमान स्थिति में ऐसी कोई गारंटी नहीं है जो खिलाड़ियों के स्वास्थ्य को बिना किसी खतरे में डाले ओलंपिक कराये जा सके। इन सभी कारणों को देखते हुए स्पेनिश एथलेटिक संघ अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) और आयोजन समिति से ओलंपिक को स्थगित करने का अनुरोध करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *