CBI चीफ का जवाब लीक होने सुप्रीम कोर्ट नाराज, सुनवाई 29 नवंबर तक टली

नई दिल्ली। सीबीआई में रिश्वतखोरी (corruption in cbi) विवाद में सुनवाई कर रही सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई चीफ का जवाब लीक होने पर नाराजगी जताई है। जवाब लीक होने से नाराज सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई 29 नवंबर तक टाल दिया है। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि ‘‘हमें नहीं लगता कि अाप में से कोई भी सुनवाई के लायक है।’’

नाखूनों से पता करें कि आपके शरीर में कौन सी बिमारी है

बता दें कि सीबीआई चीफ ने सीवीसी की जांच रिपोर्ट पर सोमवार को अपना जवाब दिया था। जवाब सीलबंद लिफाफे में था। हालांकि फिर भी खबरें मीडिया में लीक होने पर कोर्ट ने नाराजगी जताई है। बेंच ने कहा, ‘‘मिस्टर नरीमन यह सिर्फ आपके लिए है और इसलिए नहीं कि आप आलोक वर्मा के वकील हैं। हमने इसे (मीडिया रिपोर्ट) आपको इसलिए सौंपी क्योंकि आप इस संस्थान के सबसे सम्मानीय और वरिष्ठ सदस्यों में से एक हैं। कृपया हमारी मदद कीजिए।’’

The Kapil Sharma Show season 2: इस दिन होगा ‘द कपिल शर्मा शो’ का टेलिकास्ट

इसके जवाब में नरीमन ने कहा वह खुद स्तब्ध हैं कि जवाब कैसे लीक हो गया। नरीमन ने बेंच से कहा कि मीडिया को जिम्मेदारी से पेश आना चाहिए, इसलिए न्यूज पोर्टल और उसके पत्रकारों को तलब किया जाना चाहिए।

SL vs ENG 2nd test: स्पिनर्स ने तोड़ 50 साल पुराना रिकॉर्ड, जानें कैसे

वहीं इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर बीजेपी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में चौकीदार ही चोर नामक एक क्राइम थ्रिलर चल रहा है। नए एपिसोड में CBI के DIG द्वारा एक मंत्री, NSA, कानून सचिव और कैबिनेट सचिव के खिलाफ गंभीर आरोप हैं। वहीं गुजरात से लाया उसका साथी करोड़ों वसूली उठा रहा है। अफ़सर थक गए हैं। भरोसे टूट गए हैं। लोकतंत्र रो रहा है।

तेज प्रताप के तलाक में नया मोड़, राबड़ी के घर से एश्वर्या की मां रोते हुए लौंटी

बता दें कि 1984 आईपीएस बैच के गुजरात कैडर के अफसर अस्थाना मीट कारोबारी मोइन कुरैशी से जुड़े मामले की जांच कर रहे थे। कुरैशी को ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग को आरोपों में पिछले साल अगस्त में गिरफ्तार किया था। सीबीआई चीफ को भेजी गई शिकायत में कहा गया था कि अस्थाना ने इस मामले में उसे क्लीन चिट देने के लिए 5 करोड़ रुपए मांगे थे। मामले की शिकायत हैदराबाद के सतीश बाबू सना ने की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *