रविवार को वाहन खरीदना चाहिए या नहीं, जानें क्या कहता है शास्त्र?

रविवार को वाहन खरीदना चाहिए या नहीं

रविवार को वाहन खरीदना चाहिए या नहीं। इस बात को लेकर शास्त्रों में कुछ नियम बताए गए हैं। इन नियमों का पालन करके आप शुभ योग में वाहन खरीदेंगे तो जीवन में अच्छे दिन आएंगे। क्या आप वाहन या गाड़ी खरीदने की सोच रहे हैं तो वाहन खरीदते समय आपको एक बात का ख्याल अवश्य रखना चाहिए।

आपका वाहन लंबे समय तक आपका साथ दे इसके लिए अंक ज्योतिष में कुछ खास बातें बताई गई हैं जिनका पालन करना चाहिए। इन बातों का ख्याल रखकर आप जब वाहन खरीदेंगे तो आपकी गाड़ी आपके लिए शुभ और लाभकारी साबित होगी। वाहन खरीदते समय शुभ दिन नहीं होने से कई बार दुर्घटनाएं होने की आशंका होती है, इसलिए रविवार को गाड़ी खरीदना चाहिए या नहीं, आइए जानते हैं।

यह भी पढ़ें -   गाय को नमक खिलाने के फायदे - गाय को क्या नहीं खिलाना चाहिए?
रविवार को वाहन खरीदना चाहिए या नहीं

शुभ दिन की बात करें तो वाहन खरीदने के लिए सबसे शुभ दिन सोमवार, बुधवार, गुरुवार, शुक्रवार और रविवार होता है। ऐसे में यदि आप वाहन खरीदने की सोच रहे हैं तो रविवार का दिन आपके लिए शुभ होगा। रविवार के दिन नई गाड़ी खरीद सकते हैं। हालांकि वाहन खरीदने के लिए शुक्रवार का दिन सबसे अधिक शुभ माना गया है।

किस तिथि को वाहन खरीदना चाहिए?

तिथि की बात करें तो वाहन खरीदने के लिए शुभ तिथि प्रथमा, तृतीया, पंचमी, षष्टी, अष्टमी, दशमी, एकादशी, त्रयोदशी और पूर्णिमा की तिथि शुभ मानी जाती है। अमावस्या की तिथि को कभी भी वाहन नहीं खरीदना चाहिए।

किस लग्न में वाहन खरीदना शुभ होता है?

तिथि और दिन के अलावा लग्न का भी विशेष ध्यान वाहन खरीदने वक्त रखा जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, ऐसे में यदि दिन और तिथि शुभ है तो एक बार लग्न भी देख लेना चाहिए। शुभ लग्न की बात करें तो मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, वृश्चिक, धनु और मीन लग्न में वाहन खरीदना श्रेष्ठ माना जाता है।

यह भी पढ़ें -   Vastu Tips: अपने घर में इस तरह रखें लाफिंग बुद्धा की मूर्ति, परिवार रहेगा खुशहाल

एक बात का हमेशा ध्यान रखें कि जिस दिन भी आप वाहन खरीदने के लिए जाएं तो उस दिन चंद्रमा षष्टम, अष्टम, और द्वादश भाव में नहीं होना चाहिए। इसके अलावा चतुर्थ भाव के स्वामी और शुक्र की स्थिति का भी वाहन खरीदने जाते समय अवलोकन अवश्य कर लेना चाहिए।

राहु काल में नहीं खरीदना चाहिए वाहन

जैसा कि नाम से ही लग रहा है कि राहु और केतु अशुभ ग्रह माने जाते हैं। इसलिए राहु काल और केतु काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है। वाहन खरीदने के लिए राहुकाल बहुत ही अशुभ होता है। रविवार को वाहन खरीदना चाहते भी हैं तो भी यदि राहु काल हो तो सावधानी बरतना चाहिए।

यह भी पढ़ें -   15 फरवरी को लगेगा साल का पहला आंशिक सूर्य ग्रहण, इन बातों का रखें ख्याल

राहु काल में कार, बाइक या अन्य वाहन और मकान तथा आभूषण आदि भूलकर भी नहीं खरीदना चाहिए। राहु काल की अवधि में वाहन की खरीदारी करने और उसकी बिक्री करने से बचना चाहिए। राहु काल में खरीदा गया वाहन आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

नोट- यह जानकारी ज्योतिष शास्त्र के आधार पर दी गई है। इसे एक सामान्य जानकारी ही समझे। कुछ सलाह के लिए हमेशा योग्य ज्योतिषी से संपर्क करें।


देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं। खबरों का अपडेट लगातार पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।