कोरोना लॉकडाउन: जानिए क्या पाबंदियां रहेंगी और किन कामों की होगी छूट?

कोरोना लॉकडाउन

नई दिल्ली। देश और दुनिया में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। भारत में अब कोरोना लॉकडाउन की स्थिति बनती जा रही है। भारत में अब तक इस वायरस की चपेट में आने से 7 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि संक्रमितों की संख्या 400 से पार  हो गई है। रविवार को गुजरात, बिहार और महाराष्ट्र में 1-1 कोरोना मरीजों की मौत हुई। देश भर में कोरोना वायरस के 81 नए मामले सामने आए। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते केंद्र और राज्य सरकारों ने कई बड़े फ़ैसले लिए हैं।

यह भी पढ़ें -   दिल्ली हिंसा- आप सरकार के पार्षद के घर मिला पेट्रोल बम, सियासत तेज

केंद्र सरकार ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों के साथ बैठक कर उन सभी 75 जिलों को लॉकडाउन करने का फ़ैसला किया जहां कोरोना वायरस के केस सामने आए हैं। इस दौरान कुल मिलाकर देश में करीब 80 शहर कोरोना लॉकडाउन की अवस्था में हैं। ज्यादातर जगहों पर यह कोरोना लॉकडाउन 31 मार्च तक जारी रहेगा तो वहीं कुछ जिलों में अगले 2-3 दिनों के हालात को देखकर कोरोना लॉकडाउन की समीक्षा की जाएगी और फिर आगे की रणनीति पर फैसला लिया जाएगा।

इस लॉकडाउन के कारण कोई भी प्राइवेट संस्थान, दफ्तर और पब्लिक ट्रांसपोर्ट की आवाजाही को पूरी तरह से बंद किया जा रहा है, जबकि आवश्यक सामानों की आपूर्ति जारी रहेगी। आवश्यक सेवाओं में दवा की दुकानें, डेयरी संबंधित प्रतिष्ठान, सीएनजी पंप, बैंकिंग और एटीएम, अस्पताल, किराने की दुकान, पेट्रोल पंप व प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया जैसी सेवाओं और इन सेवाओं को जनता के लिए उपलब्ध करवाया जाएगा।

यह भी पढ़ें -   Unnao Case: उत्तर प्रदेश से उन्नाव केस दिल्ली स्थानांतरित, 7 दिन में जांच का आदेश

राजधानी दिल्ली में जरूरी कामों पर जाने हेतु डीटीसी की बसें 25 प्रतिशत चलेंगी और सारे बाज़ार दुकानें बंद रहेंगे। दिल्ली सरकार ने दिल्ली से सटे हुए सभी बॉर्डर सील कर दिए गए हैं। दिल्ली में सिर्फ़ जरूरी सामान दूध सब्जी और खाने-पीने के सामान ही आएंगे।

रेलवे बोर्ड के जारी किए गए नोटिफिकेशन के अनुसार सिर्फ मालगाड़ियों का परिचालन किया जाएगा, जबकि 31 मार्च तक देश में सभी यात्री रेलगाड़ियों को भी बंद रखने का फैसला लिया गया है। कोरोना लॉकडाउन की स्थिति को देखते हुए राजधानी दिल्ली समेत मुंबई की लोकल सेवा के साथ-साथ दिल्ली, मुबंई, कोलकाता समेत सभी मेट्रो सेवाएं को भी 31 मार्च तक बंद रखने का फैसला लिया गया है।

यह भी पढ़ें -   Coronavirus in India: दिल्ली में कोरोना का पहला मामला आया सामने, अलर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *