कांग्रेस नेता ने दिया पीएम मोदी के खिलाफ बयान, राजनीति गरमाई

नई दिल्ली। चुनावी मौसम जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है नेताओं की जुबान भी फिसलने लगी है। विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस नेता सीपी जोशी की जुबान फिसल गई। विवाद बढ़ता देख खुद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आगे आए और डैमेज कंट्रोल करने की कोशिश की। राहुल गांधी सफाई देते हुए कहा कि कांग्रेस नेता का यह बयान कांग्रेस के आदर्शों के विपरित है।

वहीं इस मामले में बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस नेता को ऐसी बात नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता का ऐसा बयान चौकाने वाला है।

बयान पर विवाद बढ़ता देख कांग्रेस अध्यक्ष ने सीपी जोशी को इस मामले में खेद जताने को कहा। राहुंल गांधी ने ट्वीट किया, ‘सीपी जोशी जी का बयान कांग्रेस पार्टी के आदर्शों के विपरीत है। पार्टी के नेता ऐसा कोई बयान न दें जिससे समाज के किसी भी वर्ग को दुःख पहुंचे। कांग्रेस के सिद्धांतों, कार्यकर्ताओं की भावना का आदर करते हुए जोशीजी को जरूर गलती का अहसास होगा। उन्हें अपने बयान पर खेद प्रकट करना चाहिए।’

congress-leader-gave-a-statement-against-pm-modi
कांग्रेस नेता राहुल गांधी

 

 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने निर्देश के बाद कांग्रेस नेता सीपी जोशी ने भी ट्वीट करते हुए कहा कि ‘कांग्रेस के सिद्धांतों एवं कार्यकर्ताओं की भावनाओं का सम्मान करते हुए मेरे कथन से समाज के किसी वर्ग को ठेस पहुंची हो तो मैं उसके लिए खेद प्रकट करता हूं।’

 

बता दें कि अभी राजस्थान में विधानसभा चुनाव चल रहा है। ऐसे में कांग्रेस चुनाव के वक्त किसी भी प्रकार का कोई खतरा मोल नहीं लेना चाहता। वहीं जोशी के बयान पर केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने कहा है कि जोशी का बयान दिखाता है कि कांग्रेस हताशा में है। कांग्रेस के एक नेता नहीं बल्कि सभी नेता चाहे वो सीपी जोशी हो या राज बब्बर हो, जिस भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं, उससे साफ लगता है कि कांग्रेस में हताशा आ गई है।

बता दें कि इससे पहले कांग्रेस नेता सीपी जोशी ने बुधवार को कहा था कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बनवाएगी। जोशी ने नाथद्वारा में कहा, भारतीय जनता पार्टी चुनावी मौसम में राम मंदिर का मुद्दा उठाकर लोगों को भ्रमित कर रही है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें