कांग्रेस ने यूपी में बनाई नई समिति, राज बब्बर को किसी भी कमेटी में जगह नहीं

कांग्रेस ने यूपी में

नई दिल्ली। कांग्रेस (Congress) ने यूपी चुनाव 2022 (UP Election) को देखते हुए पार्टी की तमाम कमेटियों का गठन कर दिया है। यूपी में अगले साल होने वाले चुनाव को देखते हुए नई कमेटी बनाई गई है। कमेटियों में पुराने नेताओं के साथ-साथ युवा चेहरों को भी जगह दी गई है। हालांकि यूपी में कांग्रेस का ब्राह्मण चेहरा जितिन प्रसाद का नाम इस सूची से गायब कर दिया गया है।

रविवार को कांग्रेस (Indian National Congress) ने चार कोर कमेटियों की घोषणा कर दी। हालांकि इन सभी कमेटियों में कांग्रेस के पूर्व सांसद जितिन प्रसाद के साथ यूपी कांग्रेस कमिटी के पूर्व अध्यक्ष राज बब्बर को भी शामिल नहीं किया गया है। ये दोनों नेता उन कांग्रेसियों में से थे, जिन्होंने नेतृत्व के मुद्दे पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को पत्र लिखा था।

जिस तरह से इन दोनों नेताओं को कमेटियों से बाहर रखा गया है उससे लगता है कि कांग्रेस चिट्ठीबाज नेताओं को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। कांग्रेस (Indian National Congress) ने घोषणा पत्र समिति, आउटरीच समिति, सदस्यता समिति और कार्यक्रम कार्यान्वयन समिति का गठन किया है।

यह भी पढ़ें -   कोरोना कामयाबी: देशभर में 24 घंटे में एक हजार से ज्यादा मरीज हुए ठीक

किसी भी कमेटी में राज बब्बर (Raj Babbar) को स्थान नहीं मिलने पर पार्टी से जुड़े एक वरिष्ठ नेता का कहना है कि राज बब्बर और जितिन प्रसाद को भविष्य़ में महत्वपूर्ण भूमिका दी जाएगी।

दूसरी तरफ से कांग्रेस पार्टी (Congress Party) की ओर से घोषित की गई समितियों में उत्तर प्रदेश के लगभग सभी बड़े नेताओं को स्थान मिला है। इस समितियों में सलमान खुर्शीद, प्रमोद तिवारी, राशिद अल्वी, नूर बानो, अनुग्रह नारायण आदि।

यह भी पढ़ें -   कोरोना का कहर: देशभर में पिछले 24 घंटों में 99 मौतों के साथ 2564 नए मामले मिले

ताजा घटनाओं पर राज बब्बर (Raj Babbar) ने कहा कि उपयुक्त लोगों को सही कामों के लिए चुना गया है। उन्होंने कहा कि मुझे यकीन है कि वे अच्छा काम करेंगे। जहां तक मेरा सवाल है तो मैंने यूपी छोड़ दिया है।