Benefits of Eating Neem Leaves – नीम के पत्ते खाने से मिलते हैं शानदार फायदे

Benefits of Eating Neem Leaves

Health Tips: आयुर्वेद में नीम के कई फायदे (Benefits of Eating Neem Leaves) बताए गए हैं। नीम को औषधि की तरह भारतीय ऋषि-मुनि इस्तेमाल करते आए हैं। कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने में नीम का इस्तेमाल किया जाता है। नीम के पौधे का प्रत्येक भाग औषधि के रूप में उपयोग किया जाता है। नीम के पत्ते को खाने से कई लाभ मिलते हैं।

नीम का पत्ता, नीम की टहनियां, नीम वृक्ष की छाल, नीम का बीज, फल और फूल का इस्तेमाल आयुर्वेद में कई बिमारियों को दूर करने में किया जाता है। नीम के पत्ते को चबाने के भी कई फायदे (Benefits of Eating Neem Leaves) और लाभ हैं।

यह भी पढ़ें -   शहद के फायदे- गुनगुने पानी में शहद डालकर पीने के फायदे क्या-क्या हो सकते हैं?
नीम के पत्ते को चबाने के फायदे – Benefits of Eating Neem Leaves

नीम के पत्ते को रोजाना चबाने से शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली या इम्यून सिस्टम मजबूत होती है। नीम का पत्ता कैंसर और हृदय रोग जैसी बड़ी बिमारियों के खतरे को भी कम करता है। नीम के पत्तों में एंटीमाइक्रोबियल, एंटीवायरल और एंटीऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते हैं। यह शरीर में हानिकारक बैक्टीरिया को नष्ट कर शरीर को स्वस्थ करने में मदद करता है।

नीम का पत्ता पाचनक्रिया को सुधारने में मददगार होता है। प्रतिदिन नीम का सेवन करने से आंतों में खतरनाक बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं। नीम का पत्ता हमारे लीवर के लिए फायदेमंद होता है।

यह भी पढ़ें -   पेट में गैस की समस्या को चुटकियों में करें दूर, अपनाएं यह रामबाण तरीका

नीम का पत्ता खाने से यह शरीर के विषाक्त पदार्थों को खत्म करता है और उसे शरीर से बाहर निकालता है। इससे शरीर स्वस्थ होता है। शरीर स्वस्थ होने से रक्त शुद्ध होता है। शुद्ध रक्त (खून) से हमारी त्वचा या स्कीन शुद्ध होती है। नीम के पत्तों में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं। यह त्वचा की किसी भी समस्या को दूर करने में असरदार होता है।

नीम के पत्तों को खाने से किसी भी प्रकार का संक्रमण और जलन की समस्या दूर होता है। कीड़े के काटने, खुजली की समस्या, एक्जिमा, रिंग कीड़े और त्वचा की समस्याओं के लिए नीम पत्ता और हल्दी पेस्ट का इस्तेमाल किया जाता है।

यह भी पढ़ें -   जूते पहनना है तो वेन्ड्यू के जूते ही पहने

डिस्क्लेमर – यह एक सामान्य जानकारी है। इन सुझावों और जानकारी को किसी मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर ना लें। किसी भी बीमारी के इलाज से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।