अमेरिका ने ईरान पर 4 न्यूक्लियर प्रतिबंधों को 60 दिनों के लिए बढ़ाया

अमेरिका

वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को ईरान के न्यूक्लियर प्रोग्राम पर अगले 60 दिनों तक के लिए 4 प्रतिबंधों को जारी रखने का फैसला किया है। इसके साथ ही तेहरान के लिए न्यूक्लियर हथियार बनाना मुश्किल होगा। अमेरिका ने 2018 में ईरान न्यूक्लियर डील रद्द करके प्रतिबंध लगा दिए थे। अब अमेरिका ईरान पर इस बात का भी दबाव बना रहा है कि वह अपनी न्यूक्लियर और मिसाइल संबंधी गतिविधियां बंद कर दे।

यह भी पढ़ें -   भारत-अमेरिका के बढ़ते संबंध से डरा पाकिस्तान, दे दिया बौखलाहट में ऐसी नसीहत

अमेरिका के स्टेट डिपार्टमेंट की प्रवक्ता मोर्गन ओर्टागस ने अपने बयान में कहा कि अमेरिका ईरान पर 60 दिनों के लिए 4 प्रतिबंधों को जारी रखेगा। हम ईरान के न्यूक्लियर प्रोग्राम को मॉनिटर करेंगे और किसी भी वक्त इन प्रतिबंधों को अजटस्ट कर सकते हैं। राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, ईरान को कभी न्यूक्लियर हथियार बनाने की इजाजत नहीं मिलेगी।

उन्होंने कहा, ये प्रतिबंध ईरान के न्यूक्लियर प्रोग्राम पर आधारित हैं, जिसे स्वीकार नहीं किया जाएगा। ट्रंप प्रशासन का इस फैसले के बाद अरक हेवी-वॉटर रीसर्च रिऐक्टर, बुशेहर न्यूक्लियर पावर प्लांट, तेहरान रीसर्च रिऐक्टर और दूसरे न्यूक्लियर प्रॉजेक्ट्स में नॉन-प्रोलिफरेशन के काम को जारी रखा जा सकेगा।

यह भी पढ़ें -   पहले टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड ने भारत को 10 विकेट से दी मौत, सीरीज में 1-0 की बढ़त

बयान में कहा गया कि हम अपनी डिप्लोमैटिक और इकनॉमिक हथियारों के जरिए ईरान की प्रोलिफरेशन ऐक्टिविटीज को रोकना जारी रखेंगे। हम ईरान के न्यूक्लियर प्रोग्राम पर नजर रखेंगे और कभी भी ये प्रतिबंध एडजस्ट कर सकते हैं। बता दें कि अमेरिका द्वारा यह कदम ऐसे समय में लिया गया है जब दुनिया कोरोना वायरस से पीड़ित है।

विश्व में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। पूरी दुनिया में कोरोना के अबतक 800 000 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। दुनिया भर में कोरोना वायरस के संक्रमण से अबतक 38 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में कोरोना के 1427 मामले सामने आए हैं और 42 लोगों की मौत हो चुकी है।