शिकायत के बाद ट्राई ने दिया एयरटेल, वोडाफोन-आईडिया को नोटिस

trai-issued-notice-to-vodafone-idea-after-complaint

नई दिल्ली। भारत में 4जी सेवा की शुरुआत के बाद टेलिकॉम सेक्टर में कई बदलाव हुए। जियो ने 4जी सेवा की शुरुआत की और टेलिकॉम सेक्टर में एक प्रतिस्पर्धा को जन्म दिया। हालांकि इस प्रतिस्पर्धा को कई कंपनियां झेल नहीं पाई और वे या तो मर्ज हो गए या फिर बंद या बिक गए। देश की दिग्गज कंपनी एयरटेल और वोडाफोन ने जियो से निपटने के लिए कई तरह के आकर्षक प्लान पेश किए। लेकिन जियो का नशा लोगों में बना रहा।

लेकिन अब एयरटेल, वोडाफोन-आईडिया ने ग्राहकों को झटका देते हुए इंकमिंग कॉल्स की सुविधा को बंद करने का फैसला किया है। कंपनी के नए नियम से कई ग्राहकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। नए प्लान के पेश होते ही लोगों ने ट्राई के सामने शिकायत की। जिसके बाद ट्राई शिकायत को गंभीरता से लेते हुए कंपनियों को नोटिस जारी किया है और जवाब मांगा है।

ट्राई ने कंपनियों से यह भी कहा है कि जबतक इस संबंध ट्राई की तरफ से कोई आदेश नहीं आता लोगों के नंबर को बंद नहीं किया जाए। हालांकि ट्राई ने कंपनियों से यह भी कहा है कि वह ग्राहकों को नए प्लान के बारे में अवगत कराएं। अचानक की सिम को बंद नहीं करें। खबरों के मुताबिक, कंपनियों को पिछले कुछ महीनों से घाटे का सामना करना पड़ा है, इसलिए इंनकमिंग की सुविधा को बंद करने का फैसला लिया गया है।

यह भी पढ़ें -   Airtel के नए प्लान से Jio परेशान! मिलेगा इतना जीबी डाटा
trai-issued-notice-to-vodafone-idea-after-complaint
वोडाफोन-आईडिया सेल्युलर

बता दें कि बाजार में इन टेलिकॉम कंपनियों ने तीन तरह के प्लान पेश किये हैं। सबसे पहला प्लान है  35 रुपए का। जिसमें ग्राहकों को 26 रुपए का बैलेंस मिलता है। दूसरा 65 रुपए का है जिसमें 55 रुपए का टॉकटाइम और 200 एमबी मुफ्त डाटा मिलता है। दोनों की वैधता 28 दिनों की है। अंतिम प्लान 95 रूपए का है जिसमें 95 रुपए का टॉकटाइम और 500 एमबी डाटा मिलता है। आउटगोइंग कॉल 30 पैसे प्रति मिनट और वैधता 28 दिन की है।

यह भी पढ़ें -   क्या है 13 अंकों के मोबाइल नंबर का रहस्य?

दरअसल स्मार्टफोन के यूज में बढ़ावा होने से कई लोग एक ही फोन में दो सिम का इस्तेमाल करते हैं। जिस वजह से एक सिम को इंनकमिंग कॉल्स के लिए लोग यूज करते हैं। लेकिन लगातार 6 महीने तक रिचार्ज नहीं होने से 10 रुपए का AMPU जनरेट होता है। इसी से निपटने के लिए कंपनियों ने वैसे सिम की पहचान की है जिसमें कई महीनों से रिचार्ज नहीं हुआ है।

यह भी पढ़ें -   Facebook डेटा लीक मामला, कांग्रेस की मांग, सरकार जांच कराए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *