यूपी सरकार की बैठक, 15 अप्रैल से कुछ शर्तों के साथ खुल सकता है लॉकडाउन

लॉकडाउन

लखनऊ। कोरोना लॉकडाउन का आज दसवां दिन है और अब भी जिस तरह से लगातार संक्रिमतों की संख्या बढ़ती जा रही है वो प्रशासन के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। इस विषय पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनि‍वार को राजधानी लखनऊ में आला अफसरों के साथ बैठक की। इस बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि बिना मास्क के घर से बाहर निकलने की बिल्कुल अनुमति नहीं होगी और जिन गरीबों के पास मास्क नहीं है, सरकार ऐसे गरीबों को फ्री में खादी के मास्क उपलब्ध कराएगी।

यह भी पढ़ें -   24 घंटो के भीतर सुरक्षाबलों ने 9 आतंकियों को किया ढ़ेर, एक जवान शहीद

बैठक में मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि यदि तय अवधि पर लॉकडाउन समाप्त होता है तो एपेडमिक एक्ट के तहत सबको मास्क पहनना आवश्यक होगा। इसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार 23 करोड़ जनता के लिए 66 करोड़ खादी के ट्रिपल लेयर स्पेशल मास्क तैयार कराएगी। खादी मास्क कपड़े का रीयूज वाला वाशेबुल मास्क होगा।

जिन गरीबों के पास मास्क खरीदने के लिए पैसे नहीं है, उनके लिए उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से ये स्पेशल मास्क फ्री में दिया जाएगा। साथ ही अन्य नागरिकों को मास्क बेहद सस्ते दाम में उपलब्ध कराया जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर टीम-11 की बैठक ली।

यह भी पढ़ें -   दिशा पाटनी कर रहीं राधे के लिए धांसू तैयारी?

बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अगर 15 अप्रैल से लॉकडाउन खुलता है तो हालात बहुत चुनौतीपूर्ण होंगे। ऐसे में जो जहां फंसा होगा, वहां से आने का प्रयास करेगा। इन हालातों में सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन कराना बेहद चुनौतीपूर्ण होगा। मुख्यमंत्री योगी ने अधिकारियों से कहा कि इसके लिए अभी से कार्य योजना तैयार करें।

सीएम योगी ने कहा कि स्कूल, कॉलेज, अलग-अलग तरह के बाजार और मॉल कब और कैसे खुलेंगे इसकी कार्य योजना तैयार करें। इस दौरान हर जरूरतमंद तक समय से भोजन कैसे पहुंचेगा, ये सुनिश्चित करें और जरूरत अनुसार इसके लिए स्वयंसेवी संस्थाओं की भी मदद लें। बता दें कि भारत में कोरोना वायरस संक्रमण से 2900 लोग संक्रमित हो चुके हैं।