कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट से होगा कुशीनगर का विकास, पीएम ने किया उद्घाटन

कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट

बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Kushinagar International Airport) का उद्घाटन किया। इस एयरपोर्ट के बनने से कुशीनगर और आसपास के क्षेत्रों में विकास को गति मिलेगी। पर्यटन उद्योग में भी बढ़ोतरी होगी। कुशीनगर को पहले कसिया बाजार के नाम से जाना जाता था। यह कुशीनगर जिले में स्थित है। बाद में कसिया बाजार को कुशीनगर में बदल दिया गया।

कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Kushinagar International Airport) बनने से कुशीनगर बौद्ध तीर्थस्थल के विकास को और गति मिलेगी। बता दें कि कुशीनगर वहीं स्थान हैं जहां पर गौतम बुद्ध का महापरिनिर्वाण हुआ था। कुशीनगर, राष्ट्रीय राजमार्ग 29 पर स्थित है। यह गोरखपुर से लगभग 50 किलोमीटर पूरब स्थित है। यहां पर अनेक बौद्ध मंदिर हैं।

यह भी पढ़ें -   बॉलीवुड अभिनेता ऋषि कपूर नहीं रहे, अब सिर्फ यादों में रहेंगे

कुशीनगर में बौद्ध मंदिरों की अधिकता के कारण यह एक अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन स्थल भी है जहां पर विश्व के अलग-अलग देशों से बौद्ध तीर्थयात्री भ्रमण के लिए आते हैं। कुशीनगर से 20 किलोमीटर पूरब बढ़ने पर बिहार राज्य की सीमा आरंभ होती है। कुशीनगर में मुख्य रूप से हिंदी और भोजपुरी भाषा बोली जाती है।

कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का उद्घाटन
पीएम मोदी ने किया कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का उद्घाटन

कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Kushinagar International Airport) के उद्घाटन के बाद पीएम मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत, विश्वभर के बौद्ध समाज की श्रद्धा और आस्था का केंद्र है। कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की ये सुविधा उनकी श्रद्धा को अर्पित पुष्पांजलि है। उन्होंने कहा कि भगवान बुद्ध के महापरिनिर्वाण तक की संपूर्ण यात्रा का साक्षी यह क्षेत्र अब सीधे विश्व के अन्य देशों से जुड़ गया है।

यह भी पढ़ें -   विश्व धरोहर दर्जा प्राप्त यह मंदिर Buddhist Civilization का केंद्र है...

पीएम मोदी ने कहा कि भगवान बुद्ध से जुड़े स्थानों को विकसित करने के लिए, बेहतर कनेक्टिविटी के लिए और श्रद्धालुओं की सुविधाओं के निर्माण पर भारत की तरफ से आज विशेष ध्यान दिया जा रहा है। कुशीनगर का विकास यूपी सरकार और केंद्र सरकार की प्राथमिकताओं में है। उन्होंने कहा कि देश में 50 से ज्यादा नए एयरपोर्ट या जो पहले सेवा में नहीं थे, उनको चालू किया जा चुका है।