भारत चीनी पहलवानों के मामले में ओलंपिक चार्टर का पालन करेगा : खेल मंत्री रिजिजू

चीनी पहलवानों

नई दिल्ली। एशियाई कुश्ती प्रतियोगिता में चीन के पहलवानों के शामिल होने को लेकर उठे संशय के बीच केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा कि इस मामले में भारत ओलंपिक चार्टर का पालन करेगा।

चीन में फैले कोरोना वायरस को लेकर चीनी पहलवानों के दिल्ली में 18 से 23 फरवरी तक होने वाली एशियाई कुश्ती प्रतियोगिता में शामिल होने को लेकर संशय पैदा हो गया है। हालांकि चीन के 40 सदस्यीय दल ने इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए आवेदन किया है।

रिजिजू ने इस संदर्भ में पूछे जाने कर संवाददाताओं से कहा कि कोरोना वायरस स्वास्थ्य से जुड़ा मामला है। विदेश और स्वास्थ्य मंत्रालय इस मामले को गंभीरता से देख रहे हैं। जहां तक खेलों की बात है हमें अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों का हर हाल में अपने देश में आयोजन करना है। इस मामले में हम पूरी ओलंपिक चार्टर का पालन करेंगे।

यह भी पढ़ें -   बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली इंग्लैंड में चार नेशन सीरीज पर चर्चा कर सकते हैं

उल्लेखनीय है कि भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने रिजिजू के इस बयान से एक-दो घंटे पहले कहा था कि कुश्ती महासंघ चीनी पहलवानों की प्रतियोगिता में भागीदारी के लिए तैयार है लेकिन इस बारे में कोई भी अंतिम फैसला सरकार को करना है। खुद चीन में 2-3 खेल आयोजनों को कोरोना वायरस के चलते स्थगित किया जा चुका है।

पाकिस्तानी पहलवानों की प्रतियोगिता में भागीदारी पर भी खेल मंत्री ने कहा कि उनकी हिस्सेदारी को लेकर भी ओलंपिक चार्टर का पालन किया जाएगा। पाकिस्तान के पांच पहलवानों ने एशियाई चैंयिपनशिप में हिस्सा लेने के लिए आवेदन किया है।

यह भी पढ़ें -   कोरोना वायरस संक्रमण से संक्रमित 10 जापानी नागरिक वापस लौटे, चीन में 65 नई मौतें

गत चैंपियन दिविज शरण को लिएंडर पेस ने दी मात

गत चैंपियन दिविज शरण को टाटा ओपन महाराष्ट्र टेनिस टूर्नामेंट के तीसरे संस्करण में मंगलवार को हमवतन लीजेंड खिलाड़ी लिएंडर पेस के हाथों हार का सामना करना पड़ा। शरण ने पिछले साल रोहन बोपन्ना के साथ युगल खिताब जीता था और इस बार वह न्यूजीलैंड के आर्टेम खिताब के साथ के साथ उतरे लेकिन पेस और उनके ऑस्ट्रेलियाई जोड़ीदार मैथ्यू एबडेन ने उन्हें लगातार सेटों में 6-2, 7-6 से हरा दिया।

यह भी पढ़ें -   डीजीसीए ने चीन गए लोगों को भारत आने पर लगाया रोक, जानें क्या है मामला

महालुंगे बालेवाड़ी स्टेडियम में खेले जा रहे इस टूर्नामेंट में पेस और एबडेन ने पहला सेट 3-0 की बढ़त बनाने के बाद 6-2 से जीता। दूसरे सेट में मुकाबला कड़ा हुआ और इसका फैसला टाई ब्रेक में जाकर हुआ। पेस और एबडेन ने यह मुकाबला एक घंटे 26 मिनट में जीता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *