मघ्यप्रदेश में बीजेपी की हालत खराब, रुझानों में कांग्रेस आगे

भोपाल। पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के वोटों की गिनती जारी है। ताजा अपडेट के मुताबिक, मध्यप्रदेश में बीजेपी को कांग्रेस कड़ी टक्कर दे रही है। एमपी के 230 विधानसभा सीटों में से बीजेपी को 108 सीटों पर बढ़त मिल रही है। वहीं कांग्रेस ने एमपी में 109 पर बढ़त बना रखी है। वहीं अन्य 13 सीटों पर आगे चल रहे हैं।

भाजपा को मालवा-निमाड़, विंध्य, महाकौशल में भाजपा को नुकसान उठाना पड़ा। पिछले 13 साल से शिवराज सिंह चौहान सत्ता में हैं। उधर, 15 साल बाद कांग्रेस राज्य में वापसी का इंतजार कर रही है। शिवराज ने दावा किया था कि वे सबसे बड़े सर्वेयर हैं और वे जानते हैं कि भाजपा ही जीतेगी।

वहीं चुनाव पर बोलते हुए कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि कांग्रेस 230 सीटों में से 132 सीटों पर जीतेगी। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को कांग्रेस के 140 सीटें जीतने का भरोसा है। बता दें कि एक्जिट पोल में भी 8 में से 5 सर्वे में कांग्रेस को आगे दिखाया गया था।

मंदिर का कितनी सीटों पर असर

महाकाल दरबार- 33

सलकनपुर मंदिर- 9

पीतांबरा पीठ- 28

मैहर, कामतानाथ, राम वन गमन पथ- 28

रामराजा दरबार- 11

असर वाली कुल सीटें- 109

मध्यप्रदेश में चुनावी मुद्दा इन तीन मुद्दों की वजह से हलचल में रहा-

1. व्यापमं घोटाला भी चुनावी मुद्दा बना। इस मुद्दे पर भाजपा की शिवराज सरकार पर भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे।

2. टेम्पल रन : राज्य की 109 सीटों पर 8 धर्मस्थलों का प्रभाव है। इस वजह से नेताओं ने मंदिरों की यात्राएं कीं। अमित शाह उज्जैन के महाकाल मंदिर गए। राहुल ने चित्रकूट में कामतानाथ मंदिर में मत्था टेका।

3. किसान आंदोलन- जून 2017 में मंदसौर में प्रदर्शन कर रहे किसानों पर हुई गोलीबारी में 6 की मौत हो गई थी। इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस ने शिवराज सरकार की आलोचना की थी। यह भी चुनावी मुद्दा बना मध्यप्रदेश में।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें