आस्था

भगवान विष्णु की कृपा गुरुवार को प्राप्त करना चाहते हैं तो ना करें यह गलती

गुरुवार का दिन भगवान विष्णु का दिन होता है। भगवान विष्णु की कृपा हर कोई प्राप्त करना चाहता है। शास्त्रों में बृहस्पतिवार का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण माना गया है। बृहस्पति देव को सभी देवी देवताओं का गुरु माना जाता है। गुरुवार यानी बृहस्पतिवार का दिन खासतौर पर भगवान विष्णु को समर्पित है। इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से जातक को विशेष फल की प्राप्ति होती है।

सच्चे मन से जो व्यक्ति भगवान विष्णु की पूजा करते हैं, उनकी सभी प्रकार की मनोकामनाएं पूर्ण होती है। भगवान विष्णु की पूजा करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और व्यक्ति के जीवन में धन से संबंधित परेशानियों का अंत हो जाता है।

हालांकि देव गुरु बृहस्पति की पूजा कैसे की जाती है, इस विषय में लोगों में बहुत कम जानकारियां हैं। भगवान विष्णु की पूजा के लिए कुछ खास नियम हैं, जिनका पालन करना बेहद ही जरूरी माना जाता है। यदि आप नियम पूर्वक अच्छे तरीके से भगवान विष्णु की पूजा करते हैं तो उनकी विशेष कृपा के भागी बनते हैं।

केला खाने से बचें

बहुत से लोगों में यह भ्रम है कि केला का रंग पीला होता है इसलिए गुरुवार के दिन इसे खाना अच्छा माना जाता है। लेकिन बता दें कि गुरुवार के दिन केले के फल का सेवन नहीं करना चाहिए। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, केले के वृक्ष में देवगुरु बृहस्पति का वास होता है। ऐसी मान्यता है कि केले के वृक्ष में भगवान विष्णु स्वयं निवास करते हैं। इसलिए गुरुवार के दिन केले के पेड़ की पूजा की जाती है।

इसलिए गुरुवार के दिन केले का फल खाने के लिए मना किया जाता है। जो लोग गुरुवार को व्रत करते हैं उन्हें व्रत करने के बाद और भगवान विष्णु को केले का भोग लगाने के पश्चात उस केले को दान कर देना चाहिए। व्रत करने वाले व्यक्ति को गुरुवार के दिन उस केला का सेवन नहीं करना चाहिए।

खिचड़ी खाने से बचें

गुरुवार के दिन खिचड़ी भी नहीं खानी चाहिए। ऐसी मान्यता है कि गुरुवार को घर में खिचड़ी बनती है या फिर उसे आप खाते हैं तो इससे धन की हानि होती है। धन की हानि होने से आपके घर में दरिद्रता का वास होता है। इससे व्यक्ति के जीवन में कई प्रकार की समस्याओं का आगमन हो जाता है।

गुरुवार के दिन घर में पोछा भी नहीं लगाना चाहिए। माना जाता है कि गुरुवार के दिन घर में कबाड़ को बाहर निकालने से बच्चों, घर के सदस्यों की शिक्षा और धर्म आदि पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इससे घर में शुभ प्रभाव में कमी आती है।

गुरुवार के दिन क्या काम करना चाहिए?

गुरुवार के दिन सूर्योदय होने से पहले स्नान आदि करके पूर्ण रूप से शुद्ध होकर भगवान श्री हरि विष्णु के समक्ष गाय के शुद्ध देसी घी का दीपक जलाना चाहिए। इस दिन पीली चीजों का दान करना चाहिए। गुरुवार के दिन केले के वृक्ष की जड़ों में जल अर्पित करना चाहिए और गुरु के 108 नामों का उच्चारण करना चाहिए।

गुरुवार के दिन ऐसा करने से जातक को जल्द ही जीवनसाथी की तलाश पूर्ण होती है। गुरुवार के दिन केसर, पीला चंदन या हल्दी का दान करना बहुत ही शुभ माना जाता है। ऐसा करने से घर में सुख शांति आती है और घर के सदस्यों की आरोग्यता बढ़ती है और भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होती है।


देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं। खबरों का अपडेट लगातार पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।


Share
Published by
Himanshu Suman

Recent Posts

सपने में लोहा चोरी होना शुभ या अशुभ, जानिए मतलब

कोरोना काल के बाद कई जगहों पर रोजगार का संकट पैदा हो गया है। ऐसे… Read More

सपने में घर में चोरी होना शुभ होता है या अशुभ, जानिए वास्तविक मतलब

सोते समय हम क्या सपना देखेंगे इसका अंदाजा हमें नहीं होता है। सपने हमलोग अचानक… Read More

अरविंद अकेला कल्लू की शादी उनके मंगेतर के साथ हो गई, लेकिन इस अभिनेत्री के साथ मना रहे हैं शादी मुबारक

भोजपुरी सिनेमा के अभिनेता अरविंद अकेला कल्लू ने बनारस की रहने वाली अपनी मंगेतर शिवानी… Read More

सपने में सांप का डसना होता है इस बात का संकेत, हो जाएं सतर्क

स्वप्न शास्त्र के अनुसार, सपनों का फल हमें अवश्य प्राप्त होता है। हालांकि हर सपनों… Read More

This website uses cookies.