यात्रिगण कृप्या ध्यान दें, 1 जून से देशभर में चलाए जाएंगे 200 नॉन ऐसी ट्रेनें

रेलवे

नई दिल्ली। रेलवे ने प्रवासी मजदूरों के लिए श्रमिक स्पेशल व राजधानी के रूट पर 15 जोड़ी एसी स्पेशल ट्रेनें चलाई। अब रेलवे 1 जून से 200 नॉन एसी स्पेशल ट्रेनें चलाने का ऐलान किया है। इन ट्रेनों के लिए टिकटों की बुकिंग ऑनलाइन होगी। इस बात की जानकारी रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर दी। जानकारी के अनुसार, माना जा रहा है कि इन ट्रेनों का रूट तय करते समय यह ध्यान में रखा जाएगा कि कहां प्रवासियों की संख्या ज्यादा है।

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

रेल मंत्री की तरफ से अगले कुछ दिनों के अंदर श्रमिक स्पेशल ट्रेनों की संख्या भी दोगुनी कर 400 रोजाना करने की बात कही गई है। रेल मंत्रालय ने श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को लेकर हो रही राजनीति पर भी रोक लगाने की तैयारी कर ली है। मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि अब श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के संचालन के लिए उस राज्य की सहमति जरूरी नहीं होगी, जहां श्रमिकों को पहुंचाना है।

रेलवे की ओर से दो मई को जारी गाइडलाइन में कहा गया था कि ट्रेन के संचालन के लिए उस राज्य की सहमति जरूरी होगी, जहां मजदूरों को पहुंचना है। लेकिन रेलवे के इस गाइडलाइन के बाद देखने में आया कि बहुत से राज्य अपने यहां प्रवासी मजदूरों को वापस लेने में आनाकानी कर रहे थे। राज्य सरकारों की बेरूखी के बाद रेलवे ने यह फैसला लिया है।

रेलवे ने 21 लाख श्रमिकों को घर पहुंचाया

रेलवे ने दावा किया है कि उन्होंने देशभर में अलग-अलग राज्यों में 1595 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन किया। अबतक रेलवे ने इन ट्रेनों के जरिए 21 लाख से अधिक यात्रियों को उनके गृह राज्य में पहुंचाया।

गौरतलब है कि वायरस के संक्रमण के डर और रोजगार छिनने की चिंता में घर पहुंचने की कोशिश में लगे लाखों मजदूर पैदल ही कूच करने लगे थे। इससे संक्रमण फैलने का डर बना हुआ था लेकिन उम्मीद है कि सरकार की नई नीति के जरिए इसे संभाला जा सकेगा।

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।


Follow WhatsApp Channel Follow Now