Indian Railway : भारतीय रेलवे के इस ऐलान से होगा यात्रियों का बड़ा फायदा

नई दिल्ली। जब भी कभी आपको दूर की यात्रा करनी हो तो भारतीय रेल का ख्याल जरूर मन आता होगा। भारतीय रेल दुनिया की सबसे बड़ी रेल नेटवर्क है। रोजाना इस रेल नेटवर्क के जरिए लाखों आबादी रोजाना सफर करता है। भारतीय रेल में कई रेलगाड़ियां अलग-अलग श्रेणियों में विभिन्न प्रदेशों में चलाए जाते हैं।

भारतीय रेलवे में राजधानी एक्सप्रेस, सप्तक्रांति एक्सप्रेस, दुरंतो एक्सप्रेस, हमसफर एक्सप्रेस, इंटरसिटी एक्सप्रेस, सुपरफास्ट एक्सप्रेस, जनशताब्दी एक्सप्रेस, शताब्दी एक्सप्रेस, गरीबरथ एक्सप्रेस, वंदेभारत एक्सप्रेस और मेल/एक्सप्रेस और पेसेंजर गाड़ियां शामिल हैं। इसके अलावा कई पर्यटक ट्रेन और लग्जरी ट्रेन और डबल डेकर एक्सप्रेस ट्रेन भी चलाई जाती है।

लेकिन इसी भारतीय रेल में कुछ खामियां भी हैं जिससे यात्रियों को दो-चार होना पड़ता है। लेकिन वक्त के साथ रेलवे ने अपनी सुविधाओं में कई बदलाव भी किए हैं। यात्रियों को ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं देने के लिए रेलवे हमेशा प्रयासरत रहती है। इसी कड़ी में भारतीय रेलवे ने एक बड़ा बदलाव करते हुए यात्रियों को लिए राहत की खबर दी है।

रेल मंत्रालय ने ट्रेन और स्टेशनों पर सामान बेचने वालों पर नकेल कसने का फैसला लिया है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक वीडियो के जरिए कहा है कि अगर ट्रेन और प्लेटफॉर्म पर सामान बचने वाला यदि आपको बिल नहीं देता है तो फिर उसे पैसे देने की कोई जरूरत नहीं है। वो सामान आपके लिए फ्री होगा।

दरअसल रेलवे ने नो बिल, नो पेमेंट की नीति को गुरुवार से पूरी तरह सभी स्टेशनों और ट्रेनों में लागू कर दिया है। इससे ट्रेनों और स्टेशनों पर भ्रष्टाचार पर लगाम भी लगेगी और यात्रियों को सही कीमत पर सामान भी मिल सकेगा। यदि मोदी सरकार का यह कदम सही तरीके से और सख्ती से लागू हो जाता है तो यह मोदी सरकार के लिए बड़ी उपलब्धि होगा।

रेल मंत्री ने एक वीडियो जारी करते हुए कहा है कि रेलवे ने No Bill, No Payment की नीति को अपनाते हुए सभी ट्रेनों और स्टेशनों पर विक्रेताओं के लिए बिल देना अनिवार्य कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि यदि कोई विक्रेता ट्रेन में और स्टेशन पर यात्रियों को सामान के बदले बिल देने से इन्कार करता है तो आपको उसे खरीदे गए सामान के लिए पैसे देने की कोई आवश्यकता नहीं है।

बता दें कि यात्रियों द्वारा अक्सर पानी की बोतलें और खाने का सामान की कीमत को लेकर शिकायतें मिलती रहती हैं। रेलवे में काम करने वाले वेंडर्स अक्सर यात्रियों से सामान की ज्यादा कीमत बसूलते रहे हैं। लेकिन इस नियम के लागू होने के बाद अब 5 रूपए के सामान के लिए भी बिल देना अनिवार्य होगा। इससे ट्रेन में रोजाना सफर करने वाले लाखों यात्रियों को फायदा होगा।

Recent Posts

Fighter Aircraft in India: भारतीय वायुसेना के पास कितने प्रकार के लड़ाकू विमान मौजूद हैं?

डेस्क। भारतीय वायुसेना (Indian Airforce) के पास कितने लड़ाकू विमान (Fighter Aircraft in India) हैं? ये सवाल हर भारतीय के…

November 19, 2019

Vivo Y19 : जानें कीमत, खूबियां और दमदार बैटरी के बारे में

नई दिल्ली। Vivo Y19, को वीवो इंडिया ने भारत में लॉन्च कर दिया है। Y सीरीज के दूसरे फोन की…

November 18, 2019

बंगाल के कोठारी बंधु, जिन्होंने विवादित गुम्बद पर लहराया था केसरिया ध्वज

डेस्क। अधोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला देते हुए रामजन्मभूमि न्यास को विवादित भूमि का मालिकाना हक दे दिया।…

November 9, 2019

योग साधना- योग के चमत्कारिक लाभ, सूर्य नमस्कार से करें समस्त रोगों का नाश

योग साधना में आपका स्वागत है। योग प्राचीन भारत का सफलतम् प्रयोग है। प्रचीन काल से ही भारत में योग…

November 5, 2019

Amrapali Dubey Biography: आम्रपाली दुबे की जीवनी, परिवार, पति और करियर

डेस्क। Amrapali Dubey भोजपुरी की सबसे सफल अभिनेत्रियों में से एक हैं। आम्रपाली दुबे का जन्म (Birth of Amrapali Dubey)…

November 3, 2019