Fighter Aircraft in India: भारतीय वायुसेना के पास कितने प्रकार के लड़ाकू विमान मौजूद हैं?

डेस्क। भारतीय वायुसेना (Indian Airforce) के पास कितने लड़ाकू विमान (Fighter Aircraft in India) हैं? ये सवाल हर भारतीय के मन में जरूर उठता होगा। भारतीय वायुसेना विश्व के सर्वोत्तम वायुसेना में गिनी जाती है। वायुसेना की शक्ति (Power of Indian Air Force) और साहस पर विश्व के सभी देश भरोसा करते हैं। भारतीय सेना विश्व की तीसरी सबसे बड़ी सेना (World’s third powerful army) है। अगर संख्या की बात की जाए तो भारतीय सेना विश्व की दूसरी सबसे बड़ी सेना (Indian army is second largest army in the world on the basis of numbers) है।

भारतीय वायुसेना ने हाल ही में राफेल फाइटर एयरक्राफ्ट (Rafale Fighter Aircraft) को शामिल किया है। इसके अलावा तेजस फाइटर प्लेन (Tejas Fighter Aircraft) समेत कई लड़ाकू विमान भारतीय वायुसेना के पास हैं। भारतीय वायुसेना ने लगातार खुद को नई परिस्थितियों में ढालने को कोशिश कर रही है। केंद्र सरकार ने भी वायुसेना की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए वायुसेना के कई प्रोजेक्ट को मंजूरी दी है। लड़ाकू विमानों के अलावा भारतीय वायुसेना ड्रोन और यूएवी को भी शामिल कर रही है।

Tejas Fighter jet of India

भारतीय सेना (Indian Army) में सक्रिय सैनिकों की संख्या 13 लाख 25 हजार है। 12 लाख सैनिक रिजर्व हैं। इस तरह से अगर भारतीय सेना के तीनों अंगों की ताकत (Power of Indian Army, Air Force and Navy) का अंदाजा लगाया जाए तो यह विश्व के ताकतवर देशों में शामिल है। अब तक हुए सभी युद्धों में भारतीय वायुसेना का रोल अहम रहा है। वैसे भी आज के समय में अगर किसी देश की वायु शक्ति मजबूत है तो उसे हराना आसान नहीं।

1950 में भारत के गणतंत्र होते ही भारतीय वायुसेना के नाम से रॉयल शब्द को हटा दिया गया और इस तरह से भारतीय वायुसेना रॉयल इंडियन एयरफोर्स के बाद इंडियन एयरफोर्स बन गई। आइए जानते हैं कि भारतीय वायुसेना के विमानों की संख्या और (Fighter Aircraft in India) मजबूती प्रदान करने वाले विमानों के बारें-

Rafale Fighter Aircraft in India

भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) के पास कितने प्रकार के लड़ाकू विमान हैं? (Fighter Aircraft in India)

वैसे तो वायुसेना से कई विमान रिटायर हो चुके हैं लेकिन जानकारी के लिए यहां पर सभी विमानों का जिक्र किया जाएगा। हाल ही में भारत ने राफेल विमान को भी शामिल किया है। इसके साथ-साथ तेजस जैसा 4th जेनेरेशन का हल्का लड़ाकू विमान भी मौजूद है जो हर मौसम में लड़ाई करने मे माहिर है। तेजस को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि इसे 5th जेनेरेशन के विमान में भी तब्दील किया जा सके।

भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) के पास मौजूद विमानों की संख्या- (Numbers of Fighter Aircraft in India)

  1. राफेल- मल्टी रोल एयर सुपीरियारिटी फाइटर
  2. मिराज 2000- मल्टी रोल फाइटर
  3. सुखोई 30 एमकेआई- मल्टीरोल फाइटर
  4. मिग 21- इंटर सेप्टर फाइटर
  5. तेजस – इंटरसेप्टर फाइटर
  6. मिग 27 – क्लोज एयर सपोर्ट फाइटर
  7. मिग 29- मल्टी रोल फाइटर
  8. जैगुआर – डीप पीनेट्रेशन अटैक बाम्बर
  9. एम आई17 – मीडियम लोड हेलीकॉप्टर
  10. एम आई 24 – हैवी लोड हेलीकॉप्टर
  11. एम आई 25- अटैक हेलीकॉप्टर
  12. एम आई 35 – अटैक हेलीकॉप्टर
  13. चेतक हेलीकॉप्टर- छोटा अटैक हेलीकॉप्टर
  14. चिनूक हेलीकॉप्टर- हेवी लोड हेलीकॉप्टर
  15. अपाची – अटैक हेलीकॉप्टर
  16. रुद्रा – अटैक हेलीकॉप्टर
  17. सुपर हरक्यूलिस- मालवाहक विमान
  18. सर्चर और हेरान ड्रोन्स
Dhruv Helicopter of India

भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) निम्न श्रेणी के विमानों का उपयोग करती है-

  1. प्रशिक्षण विमान (Training Aircraft) – टाइगर मॉथ (Tiger Moth), पर्सिवल प्रेंटिस (Percival Prentice), एच. टी-२ (H. T-2), हार्वार्ड स्पिटफायर (Harvard Spitfire), वैंपायर (Vampire) तथा डाकोटा (Dakotas)।
  2. लड़ाकू विमान (Fighter Aircraft) – स्पिटफायर (Spitfire), टेंपीट (Tempeet), वैंपायर, तूफानी (Toophani), हंटर (Hunter) तथा नैट (Gnat)।
  3. परिवहन वायुयान (Transport Aircraft) – डाकोटा, डीवान सी-११९ (Devon C-119) बॉक्सकार (Boxcar), ऑटर्स (Otters), वाइकाउंट (Viscount), इलिशिन (Illyshin) तथा पैकेट (Paket)।
  4. बमवर्धक (Bombers) – लिबरेटर (Liberator) तथा कैनबरा (Canberra)।
  5. टोह लेनेवाले विमान (Reconnaissance) – स्पिटफायर, ऑस्टर (Auster) तथा हार्वार्ड (Harvard)।
  6. अतिरिक्त विमान – हेलिकॉप्टर (Helicopter), ऑस्टर, तथा कानपुर-१ (Kanpur-1)।
Show comments

This website uses cookies.

Read More