Categories: भारत

यौन उत्पीड़न मामले में CJI को क्लीन चिट: महिला ने कहा- मेरे साथ अन्याय हुआ

नई दिल्ली। यौन उत्पीड़न मामले में सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को क्लीन चिट मिल गई है। सीजेआई को क्लीन चिट मिलने के बाद कई महिला संगठनों ने प्रर्दशन करना शुरू कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट के बाहर महिला कार्यकर्ताओं, वकीलों और आइसा के प्रदर्शनकारी पोस्टर और बैनर लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों को देखते हुए कोर्ट परिसर और आसपास के जगहों पर धारा 144 लगा दी गई है।

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि महिला के सम्मान और न्याय के लिए यह लड़ाई लड़ी जा रही है। प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि पीड़ित महिला के बयान को गंभीरता से नहीं लिया गया। बता दें कि हाल ही चीफ जस्टिस पर पूर्व महिला कर्मचारी ने यौन शोषण का आरोप लगाया था। जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने आरोपों की जांच के लिए एक समिति बनाई थी।

जांच के बाद समिति ने कोर्ट में अपनी रिपोर्ट सौंप दी है। खबरों के मुताबिक, रिपोर्ट में कहा गया है कि चीफ जस्टिस रंजन गोगोई पर लगे आरोपों में दम नहीं है। रिपोर्ट में क्लीन चिट मिलने के बाद आरोप लगाने वाली महिला ने कहा कि उनके साथ अन्याय हुआ है। आरोपों की जांच कर रही समिति ने सोमवार को जज एस.ए बोबडे की अगुवाई में रिपोर्ट सौंप दी।

यह एक अंदरूनी जांच थी जिसमें तीन जजों की समिति बनाई गई थी। इस जांच समिति में जज एस.ए बोबडे के अलावा जस्टिस इंदू मल्होत्रा और जस्टिस इंदिरा बनर्जी हैं।

Show comments

This website uses cookies.

Read More