जानकारियाँ

Brutal Dictator: विश्व का सबसे क्रूर तानाशाह जिनसे दुनिया कांपती थी

डेस्क। विश्व में कई शासक ऐसे हुए हैं जिन्हें जनता ने बहुत प्यार दिया। उनसे जनता हमेशा खुश रहती थी। ऐसे राजा को जनता बार-बार सत्ता सौंपना चाहती थी। लेकिन इसके विपरित दुनिया में कई ऐसे क्रूर तानाशाह (brutal dictator) राजा भी हुए जिन्होंने मानव जीवन में क्रूरता की सारी हदें पार कर दी। विश्व के सबसे क्रूर तानाशाह (brutal dictator) में कई चर्चित नाम भी शामिल हैं। हुस्नी मुबारक, हिटलर जैसे क्रूर तानाशाह का ऐसा नाम है जो काफी प्रशिद्ध है।

विश्व के सबसे क्रूर तानाशाह (World most cruel dictator)-

बेनिटो मुसोलिनी- बेनिटो इटली का नेता था। इसे दुनिया के सबसे क्रूर तानाशाह में से एक माना जाता है। बेनिटो मुसोलिनी ने 1922 से 1943 तक इटली पर शासन किया।  बेनिटो ने अपने शासन काल में हजारों लोगों के साथ क्रूरता की। दूसरे विश्व युद्ध के दौरान मुसोलिनी को कई बार हार का सामना करना पड़ा। बाद में उसे अपने सत्ता से भी इस्तीफा देना पड़ा था और जेल की सजा भी भोगनी पड़ी थी। हालांकि बाद में हिटलर की सहायता से वह छूट गए। लेकिन 28 अप्रैल 1945 को मित्र देशों की सेना के इटली पर हमले के बाद बेनिटो को सजा-ए-मौत दी गई।

बेनिटो मुसोलिनी के साथ एडोल्फ हिटलर

हुस्नी मुबारक- जी हां यह वो चर्चित नाम है जिससे लोग परिचित है। हुस्नी मिस्र का राजा था। उन्होंने जनता पर खूब जुल्म किया। जिसके बाद जनता ने हुस्नी के खिलाफ आंदोलन छेड़ दिया। हुस्नी मुबारक ने 1981 से 2011 तक मिस्र पर शासन किया। हुस्नी मुबारक की क्रूरता से परेशान होकर उन्हें तकरीबन 6 बार जान से मारने की कोशिश की गई। मुबारक पर भ्रष्टाचार और हत्या के कई मामले दर्ज थे। जिसमें मुबारक को 2012 में उम्र कैद की सजा सुनाई गई।

हुस्नी मुबारक

मुअम्मर अल-गद्दाफी – गद्दाफी लीबिया का एक क्रूर तानाशाह (brutal dictator) शासक था। लीबिया पर गद्दाफी ने करीब 42 साल तक शासन किया। गद्दाफी पर भ्रष्टाचार में लिप्त रहने के कई आरोप लगे। उस समय जिसने ने भी गद्दाफी की विरोध करने की कोशिश की उसे मौत की नींद सुला दिया जाता था। गद्दाफी अपनी सुरक्षा के लिए हमेशा महिला गार्ड को नियुक्त करता था। गद्दाफी 2011 में हुए एक सैन्य हमले में मारा गया। उसका शासनकाल 1970 से 2011 तक था। गद्दाफी हमेशा बुलेट प्रूफ गाड़ियों में घूमता था। गद्दाफी को हमेशा अपने मारे जाने का डर लगा रहता था। अपने अंतिम क्षणों में वह अपनी जान बख्शने के लिए सरकारी सैनिकों के सामने खुब गिड़गिड़ाया। अंत में गद्दाफी का बेहद ही दर्दनाक अंत हो गया।

मुअम्मर अल-गद्दाफी

माओ से तुंग- चीन के माओ से तुंग भी क्रूर शासको में गिने जाते हैं। माओ से तुंग 7.8 करोड़ लोगों का हत्यारा था, ऐसा कहा जाता है। 1949 से 1953 के बीच माओ से तुंग ने शासन किया। इनके शासन काल में लगभग 2 करोड़ लोग भुखमरी का शिकार हो गए।

एडोल्फ हिटलर – दुनिया के सबसे बड़े तानाशाह (brutal dictator) को कौन नहीं जानता है। हिटलर नाम पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। हिटलर जर्मनी की नाजी पार्टी का नेता था। हिटलर के शासन काल में करीब 1.7 करोड़ लोगों की हत्या हुई थी। जर्मनी पर हिटलर ने करीब 12 वर्षों (1933 से 1945) तक शासन किया। दूसरे विश्व युद्ध के समय हिटलर की सेना ने यहूदियों समेत कई लोगों को चुन-चुन कर मौत के घाट उतारा। हिटलर को विश्व का सबसे बेरहम शासक माना जाता है। हिटलर को द्वितीय विश्वयुद्ध के लिए भी सर्वाधिक जिम्मेदार माना जाता है।

एडोल्फ हिटलर

जोसेफ स्टालिन – जोसेफ स्टालिन सोवियत संघ का नेता था। जोसेफ ने 1922 से 1953 तक सोवियत संघ पर अपना शासन चलाया। जोसेफ स्टालिन ने जब सोवियत संघ की सत्ता अपने हाथ में ली तब उन्होंने अपने खिलाफ उठ रही हर आवाज को खत्म कर दिया। शीतयुद्ध के दौरान स्टालिन ने रूस को दुनिया का दूसरा परमाणु संपन्न देश बनाया। अपने कार्यकाल में जोसेफ स्टालिन ने 2.3 करोड़ लोगों की हत्या की।

जोसेफ स्टालिन

ईदी अमीन – मध्य अफ्रीका का एक देश है युगांडा। ईदी अमीन ने 1971 से 1979 तक युगांडा पर राज किया। ईदी अमीन को युगांडा का कसाई भी कहा जाता था। ईदी अमीन लोगों की बेहद ही घृनित और अमानवीय सजाएं देता था। ईदी अमीन उसके विरुद्ध उठने वाले आवाज को बेहद ही मजबूती और क्रूरता के साथ दबा देता था। वह विरोध करने वाले लोगों को हाथ पैर काटना, अपना मांस खाने को मजबूर करना, वर्फ की चट्टानों पर बैठाना और हथौड़े से सर फोड़ देना इत्यादि सजाएं देता था। ईदी की पांच पत्नियां थीं।

ईदी अमीन

किम जोंग इल – किम जोंग इल उत्तर कोरिया का शासक था। अपने पिता किम इल सुंग की मौत के बाद किम जोंग इल उत्तर कोरिया का शासक बना। जल्द ही वह उत्तर कोरिया का तानाशाह (brutal dictator) बन गया। 1994 से 2011 तक के दौरान किम जोंग इल ने बड़ी संख्या में लोगों की हत्याएं करवाईं। उनके शासनकाल में 3 लाख से ज्यादा लोगों को जेल की सलाखों में डाला गया। किम जोंग इल को दुनिया के खतरनाक तानाशाहों में से एक माना जाता है।

किम जोंग इल

रॉबर्ट मुगाबे – रॉबर्ट मुगाबे जिम्बाब्वे का राष्ट्रपति था। रॉबर्ट 1987 से 2013 तक जिम्बाब्वे का शासक रहा। रॉबर्ट मुगाबे ने धोखे से जिम्बाब्वे की सत्ता हासिल की। चुनाव में उन्हें कई प्रदेशों से एक भी वोट नहीं मिला। बाद में रॉबर्ट मुगाबे ने लोगों को डरा-धमका कर जिम्बाब्वे की स्ता पर काबिज हो गया और तानाशाह (brutal dictator) बन गया। अपने शासनकाल में रॉबर्ट ने 30 लाख लोगों की जिंदगी को बर्बाद कर दिया।

जिम्बाब्वे का राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे

ये सभी शासक विश्व के ऐसे तानाशाह रहे हैं जिनके शासन काल को बेहद ही क्रूर माना जाता है। इन शासकों के शासनकाल में करोड़ों लोगों की बली चढ़ गई।

Share
Published by
Huntinews Hindi

Recent Posts

सपने में काला सांप देखना – जानें काले सांप से जुड़ा शुभ-अशुभ मतलब

सपनों की दुनिया ऐसी होती है कि कभी न कभी हर कोई सपना देखता ही है। शास्त्रों के मुताबिक, सपने में छिपकली,  सपने में कबूतर…

सपने में घोड़ा देखना – जानें रहस्य और अच्छे-बुरे संकेतों के बारे में

सपने में घोड़ा देखना कई मायनों में शुभ होता है। रात में जब भी हमलोग सपना देखते हैं तो कुछ याद रहते हैं और कुछ…

सपने में सांप दिखना – सपने में सांप नजर आने का मतलब और अच्छे-बुरे संकेत

सपने में सांप का नजर आना कोई नई बात नहीं है। ऐसे सपने आने के कई कारण होते हैं। हिंदू धर्म शास्त्रों में सांप से…

सपने में गोली लगना – जानें ऐसे सपने आने का मतलब क्या होता है?

सपने में गोली लगना मतलब क्या होता है। सपने में कई बार हम खुद को किसी जंग में लड़ाई करते हुए देखते हैं और सपने…

सपने में नाग नागिन देखना – जानें ऐसे सपने आने का मतलब

सपने में कई बार में साँप देखते हैं। कई बार में साँप को जोड़ा भी दिखाई देता है। सपने में नाग नागिन को जोड़ा देखना…

सपने में मरी हुई बिल्ली देखना – क्या होता है इसका संकेत?

सपने में मरी हुई बिल्ली देखना आमतौर पर इसे सकारात्मक स्वप्न नहीं माना जाता है। सपने में बिल्ली को देखना भविष्य में होने वाली कई…

This website uses cookies.

Read More