Categories: शख्सियत

चंद्रशेखर आजाद की जीवनी: एक प्रखर देशभक्त और अदभुत क्रांतिकारी

डेस्क। पण्डित चन्द्रशेखर ‘आजाद’ का जन्म 23 जुलाई 1906 में भाबरा नामक गॉंव में हुआ था। वर्तमान में यह अलीराजपुर जिला का भाग है। यह जगह चन्द्रशेखर आजादनगर के नाम जाता है। चंद्रशेखर आजाद (Biography of Chandrasekhar Azad) के पूर्वज बदरका के रहने वाले थे। वर्तमान में यह उन्नाव जिला के नाम से जाना जाता है। आजाद के पिता पण्डित सीताराम तिवारी अकाल के समय अपने पैतृक निवास बदरका को छोड़कर भाबरा में बस गये। यहीं बालक चन्द्रशेखर का बचपन बीता। उनकी माता का नाम जगरानी देवी था।

चंद्रशेखर आजाद की जीवनी (Biography of Chandrasekhar Azad)

चंद्रशेखर आजाद भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के स्वतंत्रता सेनानी थे। उनके साथ अन्य साथी क्रांतिकारी भी थे जैसे राम प्रसाद बिस्मिल और भगत सिंह। चंद्रशेखर आजाद गांधी जी के विचारधारा से बहुत प्रभावित थे। लेकिन 1922 में गांधी जी द्वारा अचानक असहयोग आंदोलन को बंद करने से उनके विचारधारा में बदलाव आ गया। बाद में वे क्रांतिकारी गतिविधियों से जुड़ गए। हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन के सदस्य बनने के बाद उन्होंने 9 अगस्त 1924 को राम प्रसाद बिस्मिल के नेतृत्व में काकोरी काण्ड को अंजाम दिया।

क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद

हालांकि 1927 में बिस्मिल और चार अन्य साथियों के बलिदान के बाद उन्होंने सभी क्रांतिकारी पार्टियों को मिलाकर एक पार्टी हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन का गठन किया। एसोसिएशन के गठन के बाद उन्होंने भगत सिंह के साथ मिलकर लाहौर में लाला लाजपत राय की मौत का बदला सॉणडर्स की हत्या करके लिया। फिर दिल्ली पहुंचकर असेम्बली बम धमाके को अंजाम दिया।

आजाद एक प्रखर देशभक्त थे। वो अपने वेशभूषा में बदलाव भी बखूबी कर लेते थे। ऐसा कहा जाता है कि काकोरी काण्ड के बाद उन्होंने छिपने के लिए एक साधु का वेश बना लिया था। उन्होंने इसका उपयोग कई मौकों पर किया। एक बार की बात है वे अपने संगठन के लिए धन जुटाने के उद्देश्य से एक मरणासन्न साधु के पास चेला बनकर रहे। ताकि साधु की मौत के बाद मठ की संपत्ति उनके हाथ लग जाए। लेकिन उनके वहां पहुंचने के बाद साधु और अधिक बलवान और हट्टा-कट्टा होने लगा। जिसके बाद वे वापस लौट गए।

चंद्रशेखर आजाद की जीवन गाथा

एक बार दल के गठन के लिये वे बम्बई गये और वहाँ उन्होंने कई फिल्में देखीं। उस समय मूक फिल्मों का प्रचलन था अत: वे फिल्मों के प्रति विशेष आकर्षित नहीं हुए। चंद्रशेखर आजाद ने अपनी वीरता से देश को बहुत कुछ दिया। उनके बलिदान के बाद उनके द्वारा प्रारम्भ किया गया आंदोलन और तेज हो गया। हजारों युवक-युवतियां स्वतंत्रता आंदोलन में कूद पड़े। चंद्रशेखर आजाद मात्र 16 साल की छोटी उम्र में ही शहादत को प्राप्त हो गए। उनके शहादत के 16 साल बाद देश को आजादी मिली। चंन्द्रशेखर आजाद की जीवनी (Biography of Chandrasekhar Azad) से वीरता और कभी न झुकने की सीख मिलती है।

Recent Posts

Delhi Election 2020: अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी पर साधा निशाना, पूछा…

नई दिल्ली। Delhi Election 2020: दिल्ली चुनाव की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आ रही है, नेताओं में जुबानी जंग बढ़ती जा…

January 25, 2020

Mauni Amavasya 2020: मौनी अमावस्या के दिन इन बातों का रखें ध्यान

भारत में हिंदू धर्म में मौनी अमावस्या को खास माना जाता है। हिंदू धर्म में स्नान, दान, ध्यान का बड़ा…

January 24, 2020

दिल्ली चुनाव: बादली विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी देवेंद्र यादव ने किया नामांकन

दिल्ली के बादली विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी देवेंद्र यादव ने किया नामांकन। वीडियो देखने के लिए क्लिक करें। नई…

January 21, 2020

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020: अरविंद केजरीवाल ने नई दिल्ली से किया नामांकन

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल नामांकन पत्र दाखिल करने की आखिरी तारीख पर भी…

January 21, 2020

Amrapali Dubey Songs HD: Download Bhojpuri Songs of Amrapali Dubey

Amrapali Dubey Songs HD: Download Bhojpuri Songs of Amrapali Dubey Amrapali Dubey Songs HD: भोजपुरी अभिनेत्री आम्रपाली दुबे (Amrapali Dubey…

January 14, 2020

शाहीन बाग-कालिंदी कुंज मार्ग में कानून-व्यवस्था कामय करे पुलिस- होईकोर्ट

29 दिनों से बंद पड़े कालिंदी कुंज-शाहीन बाग मार्ग को खोलने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस को निर्देश दिया…

January 14, 2020

संसद पर हमला से चर्चा में आए डीएसपी और आतंकियों के बीच हुई थी 12 लाख की डील

नई दिल्ली। संसद हमले से चर्चा में आए, कश्मीर के कुलगाम में दो आतंकियों के साथ पकड़े गए डीएसपी देविंदर…

January 13, 2020

जीवन है अनमोल, ना करो मनमानी

बबिता सिंह। जीवन है अनमोल, ना करो मनमानी कहती नानी, कहती दादी कहता ये संसार बचा लो पानी ! कहता…

January 12, 2020

Rajendra Prasad Biography in Hindi: राजेंद्र प्रसाद की जीवनी हिन्दी में

Rajendra Prasad Biography in Hindi: डॉ राजेंद्र प्रसाद की जीवनी हिन्दी में जानिए डेस्क। भारतरत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद की जीवनी हिंदी…

January 6, 2020

अमेरिका और ईरान में बढ़ा तनाव, अमेरिका ने दी इराक पर प्रतिबंध की धमकी

हन्ट आई न्यूज। अमेरिका और ईरान के बीच जंग के हालात लगातार बढ़ते जा रहे हैं। अमेरिका-ईरान के बीच बढ़ते…

January 6, 2020

जेएनयू हिंसा: 20 से ज्यादा छात्र घायल, गृहमंत्री ने मांगी रिपोर्ट

नई दिल्ली। दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में एक बार फिर हिंसा हुई है। जेएनयू हिंसा में छात्रों के…

January 6, 2020

List of Holiday: 2020 Holiday List, देखें पूरी लिस्ट साल 2020 की

डेस्क। List of Holiday, Happy new year 2020 का ये नया साल शुरू हो चुका है। 2020 में कौन-कौन से Holidays…

January 5, 2020

This website uses cookies.