कोरोना के खिलाफ जंग में योद्धा बनकर उभरे आशीष वर्धन

पटना डेस्क। कोरोना त्रासदी से बिहार ही नहीं बल्कि पूरा देश प्रभावित है। वर्तमान में भी कई चुनौतियाँ हैं। कोरोना महामारी कब तक समाप्त होगा इसपर कोई सही अनुमान नहीं है। विभिन्न संगठन, संस्था एवं व्यक्ति लगातार इस महामारी में जनहित हेतु कार्य कर रहे हैं।

कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में पटना के आशीष वर्धन मरीजों को ऑक्सीजन सिलिंडर प्रदान कर रहे हैं। आशीष वर्धन इस आपात स्थिति में रोगियों की मदद कर रहे हैं। ज्ञात हो कि मौजूदा हालात यह है कि पटना के अस्पतालों में ऑक्सीजन की भारी कमी के कारण अफरा-तफरी मची हुई है। कई कोरोना मरीज़ ऑक्सीजन न मिलने के कारण अपनी जान भी गंवा चुके हैं।

ऐसे में आशीष वर्धन उन मरीजों को ऑक्सीजन सिलिंडर दे रहे हैं जिनका ऑक्सीजन स्तर कम है अथवा डॉक्टर ने ऑक्सीजन लेने की सलाह दी है। आशीष वर्धन खासकर उस मरीजों की सेवा करना चाहते हैं जिसे पटना के अस्पतालों में बेड की कमी के कारण ऑक्सीजन नहीं मिल पा रहा है। उन्हें वे अपनी तरफ से ऑक्सीजन सिलिंडर दे रहे हैं ताकि ऐसे मरीज होम क्वॉरेंटाइन हो सके।

मीडिया को जानकारी देते हुए आशीष वर्धन ने बताया कि वे अभी तक 8 से 10  मरीजों को ऑक्सीजन सिलिंडर दे चुके हैं। सिलेंडर लेने की प्रक्रिया काफी आसान है। मरीज़ के परिजन 10000 रुपए सिक्योरिटी के तौर पर जमा करके सिलिंडर ले सकते है। सिलिंडर वापस करते समय मास्क इत्यादि चीजें जो दोबारा इस्तेमाल नहीं होता है उसका रुपया काटकर बाकी रुपया लौटा दिया जाता है।

इस काम में आशीष के कई मित्र तथा रिश्तेदार भी उनकी सहायता कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि पहले उनके पास सिर्फ 2 ऑक्सीजन सिलिंडर था। लेकिन जब उनके मित्रों को इस कार्य के बारे में पता चला तो कई लोगों ने आर्थिक सहायता भेजी। जिसकी मदद से अभी आशीष के ऑक्सीजन बैंक में कुल 5 सिलिंडर हैं।

गौरतलब है कि आशीष कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में पहले भी जरूरतमंद लोगों के बीच 10000  से अधिक फूड पैकेट बांट चुके हैं। इस वैश्विक महामारी में आशीष वर्धन द्वारा उठाये गए इस कदम का लोग काफी सराहना कर रहे हैं। अगर आपको भी ऑक्सीजन सिलिंडर की जरूरत हो या किसी अन्य जरूरतमंद को तो आशीष वर्धन से संपर्क कर सकते हैं। संपर्क सूत्र 7781013569 है।

Show comments

This website uses cookies.

Read More